नई दिल्लीः भारत और चीन के बीच सीमा विवाद (India-China border Tension) पर तीखी बहस जारी है. जहां, कांग्रेस लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर हो रही है. चीन और भारत सीमा विवाद पर रविवार को एक बड़ी खबर आई है, जिसके मुताबिक लद्दाख में भारतीय सैनिकों ने चीन के कर्नल को बंधक बना लिया था. इस बीच एक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं. हाल ही में राहुल गांधी ने फिर एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने पीएम मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है. राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minsiter Narndera Modi) पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है लेकिन इस दौरान उन्होंने एक बड़ी गलती कर दी है.Also Read - Pegasus मामले को लेकर मोदी सरकार पर बरसे राहुल गांधी, बोले- देशद्रोह किया गया

दरअसल, राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम की जगह Surender शब्द का इस्तेमाल किया है. PM मोदी की एक फोटो ट्वीट करते हुए राहुल गांधी ने लिखा है ‘नरेंद्र मोदी असल में सरेंडर मोदी हैं.’ लेकिन इस ट्वीट में उन्होंने Surrender की स्पेलिंग Surender लिखी है. जिसे लेकर अब वह हर तरफ से ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं. यूजर्स उनके ट्वीट को देखने के बाद उनके अंग्रेजी ज्ञान पर तंज कस रहे हैं. Also Read - BJP देश की सबसे अमीर पार्टी, बसपा दूसरे और कांग्रेस तीसरे नंबर पर, जानें किसके पास कितनी संपत्ति

Also Read - Kevin Pietersen को मिला PM Modi का लेटर, गदगद होकर भारत को बताया 'वैश्विक शक्ति'

बता दें कि भारत और चीन के सैनिकों के बीच 15 जून को गलवान घाटी में झड़प हुई थी और इसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे जबकि कई जवान बुरी तरह से घायल हो गए थे. इस झड़प में कई चीनी सैनिक भी मारे गए लेकिन चीन की सरकार की तरफ से इसका खुलासा नहीं किया गया. चीन के साथ हुए इस विवाद को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर सवाल उठा रहा है.

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसको लेकर पीएम मोदी से कई बार सवाल किए. उन्होंने इससे पहले पूछा था कि आखिर भारतीय जवानों ने झड़प में गोली क्यों नहीं चलाई. इस मामले को लेकर उन्होंने पहले भी ट्वीट करके पूछा था कि क्या केंद्र ने भारतीय क्षेत्र को चीनियों आक्रामकता के आगे संरेंडर कर दिया गया. वह जमीन चीन की थी जहां भारतीय जवान शहीद हुए? हमारे सैनिकों को फिर क्यों मारा गया? हमारे सैनिकों को कहां मारा गया?