Delhi, Congress, Rahul Gandhi, Farm Laws, LAC, CHINA, कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने आज मंगलवार को केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर एक बुकलेट जारी की है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए तीन कानूनों को खेती को बर्बाद कर देने वाला करार दिया है. दिल्‍ली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कृषि कानूनों पर ‘खेती का खून तीन काले कानून’ बुकलेट जारी हुए कहा, केंद्र के कृषि कानून भारत के कृषि क्षेत्र को ‘बर्बाद’ करने के लिए बनाए गए हैं. राहुुुल ने कहा, मेरा एक साफ चरित्र है, वे मुझे डरा नहीं सकते हैं, मुझे डर नहीं है, वे मुझे छू नहीं सकते, वे मुझे गोली मार सकते हैं. Also Read - किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे, हरियाणा में किसानों ने ब्लॉक किया एक्सप्रेसवे; कृषि मंत्री बोले- सरकार कानूनों में संशोधन के लिए तैयार

वही, चीन को लेकर राहुल गांधी ने  कहा, चीन हिंदुस्तान की कमजोरी को देख रहा है, चीन के पास स्ट्रेटेजिक विज़न है, वो दुनिया को शेप करना चाहता है. हिंदुस्तान के पास स्ट्रेटेजिक विज़न नहीं है. चीन ने हिंदुस्तान को डोकलाम और लद्दाख में टेस्ट किया, अगर चीन को साफ संदेश नहीं दिया तो चीन इसका फायदा उठाएगा. Also Read - भारतीय किसान यूनियन का ऐलान- 13 मार्च को किसान-मजदूर रेलवे ट्रैक करेंगे जाम, आंदोलन होगा तेज

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने तीन केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि कृषि क्षेत्र पर तीन-चार पूंजीपतियों का एकाधिकार हो जाएगा, जिसकी कीमत मध्यम वर्ग और युवाओं को चुकानी होगी. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार की कोशिशों के बावजूद किसान थकने वाले नहीं हैं क्योंकि ”वे प्रधानमंत्री से ज्यादा समझदार हैं”. Also Read - Farmers Protest 100 days: किसानों द्वारा बंद हाईवे खुला, 5 घंटे बाद राहगीरों ने ली राहत की सांस

किसान वास्तविकता जानते हैं..भट्टा परसौल में नड्डा जी नहीं थे
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भाजपा प्रमुख जेपी नड्डा के ट्वीट पर की प्रतिक्रिया, कहा-” .. किसान वास्तविकता जानते हैं. सभी किसान जानते हैं कि राहुल गांधी क्या करते हैं. भट्टा परसौल में नड्डा जी नहीं थे… मेरा एक साफ चरित्र है, वे मुझे डरा नहीं सकते हैं, मुझे डर नहीं है, वे मुझे छू नहीं सकते, वे मुझे गोली मार सकते हैं.

राहुल गांधी ने संवाददाताओं से कहा, ”देश में एक त्रासदी पैदा हो रही है. सरकार इस त्रासदी को नजरअंदाज करना चाहती है और लोगों को गुमराह करना चाहती है. किसानों का संकट इस त्रासदी का एक हिस्सा मात्र है.’’

 

तीन-चार पूंजीपतियों का एकाधिकार है
कांग्रेस नेता ने दावा किया, ”हवाई अड्डों, बुनियादी ढांचे, दूरसंचार, रिटेल और दूसरे क्षेत्र में हम देख रहे हैं कि बड़े पैमाने पर एकाधिकार स्थापित हो गया है. तीन-चार पूंजीपतियों का एकाधिकार है. ये तीन-चार लोग ही प्रधानमंत्री के करीबी हैं और उनकी मदद करते हैं.”

मध्यम वर्ग को इसकी वो कीमत अदा करनी होगी, जिसकी कल्पना भी नहीं की होगी
कांग्रेस सांसद गांधी ने आरोप लगाया कि कृषि क्षेत्र अब तक एकाधिकार से अछूता था, लेकिन अब इसे भी निशाना बनाया जा रहा है. ये तीनों कानूनों इसीलिए लाए गए हैं. राहुल गांधी ने कहा, ” नतीजा यह होगा कि तीन-चार लोग पूरे देश के मालिक बन जाएंगे. किसानों को उनकी उपज की वाजिब कीमत नहीं मिलेगी. बाद में मध्यम वर्ग को इसकी वो कीमत अदा करनी होगी, जिसकी उसने कल्पना भी नहीं की होगी.”

आपकी आजादी छीनी जा रही है
राहुल ने आरोप लगाया, ”ये कानून सिर्फ किसानों पर हमला नहीं हैं, बल्कि मध्यम वर्ग और युवाओं पर हमला है. युवाओं से कहना चाहता हूं कि आपकी आजादी छीनी जा रही है.” कांग्रेस नेता के मुताबिक, पंजाब और हरियाणा के किसान इस देश के रक्षक हैं. वे कृषि क्षेत्र को कुछ लोगों के हाथ में जाने से रोकने के लिए लड़ रहे हैं.

तीनों कानूनों को वापस लेना होगा
कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष ने कहा, ‘‘सरकार को लगता है कि किसानों को थकाया जा सकता है और उनको बेवकूफ बनाया जा सकता है. किसान प्रधानमंत्री से ज्यादा होशियार हैं. समाधान एक ही होगा कि तीनों कानूनों को वापस लेना होगा.

सरकार मामले में कोर्ट को घसीटती जा रही है
राहुल गांधी ने कहा, ” सरकार किसानों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है, सरकार किसानों से बात करने के लिए कह रही है. 9 बार बात हो गई, सरकार मामले में कोर्ट को घसीटती जा रही है.


अरुणाचल में चीन के गांव बसाने से जुड़ी खबरों को लेकर पीएम पर निशाना साधा
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अरुणाचल प्रदेश के सीमावर्ती इलाके में चीन द्वारा गांव बसाने के दावे वाली खबरों को लेकर मंगलवार को प्रधानमंत्री पर निशाना साधा. उन्होंने एक खबर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘उनका वादा याद करिए- मैं देश झुकने नहीं दूंगा.” वहीं, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल किया, ‘‘मोदी जी, वो “56 इंच” का सीना कहां है ?” कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने भी सोमवार को इस मामले पर सरकार से जवाब मांगा था.