नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल मुद्दे पर अदालत की अवमानना मामले में न्यायालय की ओर से जारी नोटिस पर सोमवार को अपना जवाब दाखिल किया. भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने राफेल मुद्दे पर उच्चतम न्यायालय के फैसले पर गांधी की टिप्पणी के बाद उनके खिलाफ अवमानना का मुकदमा दायर किया है. Also Read - शिवराज चौहान ने पूछा- क्या राहुल गांधी की कांग्रेस अलग है और कमलनाथ की कांग्रेस अलग?

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ के समक्ष गांधी की ओर से पेश हुए अधिवक्ता सुनील फर्नाडिस ने नोटिस पर जवाब दाखिल करने की अनुमति मांगी. पीठ ने इस संबंध में उन्हें जवाबी हलफनामा दायर करने की अनुमति दे दी है. Also Read - RSS प्रमुख के चीन को लेकर दिये बयान पर आया राहुल गांधी का रिएक्शन, कहा- 'भागवत सच जानते हैं लेकिन...' 

न्यायालय ने गांधी की टिप्पणी ‘चौकीदार चोर है’ को लेकर उनके खिलाफ 23 अप्रैल को आपराधिक अवमानना का नोटिस जारी किया था. Also Read - पंजाब, राजस्थान की सरकारों ने बलात्कार के मामलों में न्याय में रुकावट डाली तो वहां भी लड़ूंगा: राहुल