नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कोरोना वायरस (Corona Virus) का प्रसार रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान मजदूरों एवं गरीबों के अपने घरों के लिए पैदल निकलने को लेकर बड़ा आरोप लगाया है. राहुल गांधी ने कहा कि इस भयावह स्थिति के लिए सरकार जिम्मेदार है. उन्होंने यह भी कहा कि इस स्थिति के एक बड़ी त्रासदी में बदलने से पहले सरकार को ठोस कदम उठाने चाहिए. Also Read - Unlock 3 In Bihar: बिहार में आज होगा अनलॉक-3 का ऐलान, स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद, जानें क्या खुल सकता है?

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘सरकार इस भयावह हालत के लिए ज़िम्मेदार है. नागरिकों की ऐसी हालत करना एक बहुत बड़ा अपराध है.’ उन्होंने कहा, ‘ आज संकट की घड़ी में हमारे भाइयों और बहनों को कम से कम सम्मान और सहारा तो मिलना ही चाहिए. सरकार जल्द से जल्द ठोस क़दम उठाए ताकि यह एक बड़ी त्रासदी ना बन जाए. ‘ Also Read - International Yoga Day 2021: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस आज, इस खास मौके पर कार्यक्रम को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने कहा कि इस स्थिति पर हम सभी को शर्म आनी चाहिए. प्रियंका ने गरीबों के पैदल पलायन का एक वीडियो शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘इन मजबूर हिंदुस्तानियों के साथ ऐसा सलूक मत कीजिए. हमें शर्म आनी चाहिए कि हमने इन्हें इस हाल में छोड़ दिया है. ये हमारे अपने हैं.’ प्रियंका ने कहा, ‘ मजदूर देश की रीढ़ की हड्डी हैं. कृपया इनकी मदद करिए. ‘ कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘हज़ारों ग़रीब लोग अपने परिवार सहित उत्तर प्रदेश – बिहार पैदल जाने को मजबूर हैं. ये लोग कह रहे हैं कि करोना वायरस से नहीं लेकिन भूख से वह जरूर मर जाएंगे.’ सुरजेवाला ने सवाल किया कि क्या इतनी बड़ी मानवीय त्रासदी का कोई जबाब नही? Also Read - International Day of Yoga 2021: योग दिवस समाराहों को लेकर पीएम मोदी ने श्रीलंका, ब्राजील के राष्ट्रपतियों को लिखा पत्र