नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कोरोना वायरस महामारी के समय देश में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना (मनरेगा) के तहत रोजगार की मांग बढ़ने को लेकर बृहस्पतिवार को सरकार पर निशाना साधा और दावा किया कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) द्वारा खोदे गए आर्थिक गड्ढे’ से गरीबों को मनरेगा ही बाहर निकाल रहा है. Also Read - मिस इंडिया वर्ल्ड रहीं एक्ट्रेस नताशा सूरी कोरोना से पीड़ित, मुंबई से पुणे जाने के बाद चपेट में आईं

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘मोदी जी ने कभी कहा था कि मनरेगा में लोगों से बस गड्ढे खुदवाए जाते हैं. पर सच्चाई यह है कि मोदी जी ने जो आर्थिक गड्ढा खोदा है उससे ग़रीबों को आज मनरेगा ही निकाल रहा है.’’ कांग्रेस नेता ने कहा- ‘मनरेगा के बिना ग़रीबी नहीं, ग़रीब मिट जाएगा.’ उन्होंने कोरोना वायरस (Corona Virus) महामारी के चलते देश में मनरेगा के तहत रोजगार की मांग बढ़ने से संबंधित आंकड़े का एक ग्राफ भी शेयर किया. Also Read - फिलहाल बंद रहेंगे स्कूल, अभिभावकों की ली जाएगी राय; शिक्षा मंत्री बोले- गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस के अनुसार निर्णय लेंगे

राहुल गांधी ने कहा कि बेरोजगारी की स्थिति को देखते हुए सरकार ने कुछ महीने पहले मनरेगा के लिए 40 हजार करोड़ रुपये के अतिरिक्त आवंटन की घोषणा की थी. इससे पहले मौजूदा वित्त वर्ष के बजट में सरकार ने मनरेगा के लिए 61,000 करोड़ रुपये के बजट का ऐलान किया था. Also Read - देश में होगा बड़ी हथियार प्रणालियों का निर्माण, 15 अगस्त को आत्मनिर्भर भारत की रूपरेखा प्रस्तुत करेंगे पीएम: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह