वायनाडः वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने मंगलवार को जिले के चिकित्सकों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के प्रति ‘‘उनकी कड़ी मेहनत’’ के लिए अपना आभार जताया और कहा कि वह कोरोना वायरस की चुनौती से निपटने के लिए उनके साथ काम करेंगे. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर अपलोड किये गए एक पत्र में सभी से आग्रह किया कि वे ‘‘वायरस को फैलने से रोकने के लिए उचित साफ सफाई अपनायें.’’ Also Read - COVID-19 से दुनिया में मौतों का आंकड़ा 34,610, संक्रमण के 7 लाख 27 हजार से ज्‍यादा केस

राहुल गांधी ने यह भी कहा कि उन्हें अपने संसदीय क्षेत्र का निर्धारित दौरा टालना पड़ा, लेकिन उन्होंने इस वायरस से निपटने के लिए कदमों के बारे में जिला कलेक्टर अदीला अब्दुल्ला से बात की है. गांधी ने कहा, ‘‘मैं आपसे अपील करता हूं कि यदि आपमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण दिखते हैं तो आप स्वयं को पृथक रखें और चिकित्सकीय सहायता लें. मैं यह भी सलाह दूंगा कि स्थिति सुधरने तक अपनी सभी गैर जरूरी यात्राएं टाल दें.’’ Also Read - Covid-19: बिना इजाजत के धार्मिक कार्यक्रम में शामिल हुए 200 लोग, कोरोना के लक्षण दिखने पर निजामुद्दीन इलाके की घेराबंदी

उन्होंने वायनाड में निगरानी में रखे गए व्यक्तियों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की. गांधी ने कहा, ‘‘यह एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति है जिसने हमारे जीवन और आजीविका को बाधित किया है. ऐसी परीक्षा की घड़ी में हम सभी को एक-दूसरे के साथ खड़े रहना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे में जब पूरा विश्व एक-दूसरे से जुड़ा हुआ है, हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है कि हम स्वयं, अपने प्रियजनों और अपने लोगों की रक्षा के लिए सभी संभव कदम उठायें.’’ Also Read - कोरोना के खिलाफ लड़ाई, PM-CARES Fund में 500 करोड़ दान करेगा रिलायंस