नई दिल्ली. एक उर्दू अखबार में छपी खबर पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा, मैं कांग्रेस हूं और हर जीवित चीज से प्यार करता हूं. बता दें कि राहुल गांधी के अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के साथ मीटिंग के बाद इंकलाब अखबार ने रिपोर्ट छापी थी, जिसमें लिखा था कि राहुल ने मीटिंग में कांग्रेस को मुसलमानों की पार्टी बताया. Also Read - बिहार में 23 अक्टूबर को राहुल गांधी और तेजस्वी यादव साथ में रैली करेंगे, ये है कार्यक्रम

राहुल ने ट्वीट किया, मैं लाइन में खड़े अंतिम व्यक्ति के साथ हूं. शोषित, हाशिए पर खड़े लोग और सताए गए लोगों के साथ खड़ा हूं. उनका धर्म, जाति और आस्था मेरे लिए कोई मायने नहीं रखती. दर्द और पीड़ा झेल रहे लोगों को मैं गले लगाना चाहता हूं. नफरत और डर को मिटाना चाहता हूं. मुझे सभी जीवों से प्यार है. मैं कांग्रेस हूं. Also Read - मध्यप्रदेश की मंत्री को कहा ‘आइटम’, राहुल गांधी बोले- मैं कमलनाथ जी की भाषा का समर्थन नहीं करता

उर्दू अखबार इंकलाब ने अपनी एक रिपोर्ट में लिखा था कि मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ हुई बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि कांग्रेस मुसलमानों की पार्टी है. इस खबर को ट्वीट करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया प्रकोष्ठ के प्रभारी अनिल बलुनी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज करते हुए कहा कि यह एक ‘ जनेऊधारी गांधी ‘ का बयान है.

कांग्रेस पार्टी ने इस खबर को सिरे से ख़ारिज करते हुए इसे बकवास बताया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बीजेपी प्रवक्ता अनिल बलुनी के ट्वीट का जवाब देते हुए राहुल गांधी के इस बयान से इनकार करते हुए इसे कोरी अफवाह बताया है. उन्होंने उलटा बीजेपी पर तंज कसते हुए ट्वीट करते हुए लिखा, जब सरकारें असफल हो जाती हैं तो अफवाहों का शासन चलता है.