नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने रविवार को उनका एक पुराना वीडियो ट्विटर पर पोस्ट कर कहा कि कृपया ‘अपनी जादुई कसरत कुछ और बार करने की कोशिश करें’, हो सकता है कि इससे अर्थव्यवस्था को रफ्तार मिल जाए. केंद्रीय बजट की आलोचना करने के एक दिन बाद राहुल ने मोदी पर यह प्रहार किया. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने रविवार को मोदी का एक पुराना वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया, जिसमें वह (मोदी) अपना रोजाना का नियमित व्यायाम कर रहे हैं.Also Read - क्या अब लखनऊ का नाम बदलेगा? CM योगी के एक ट्वीट के बाद चर्चाओं ने पकड़ा जोर

राहुल ने ‘मोदीनॉमिक्स’ हैशटैग के साथ ट्वीट किया, ‘‘प्रिय प्रधानमंत्री, कृपया अपनी जादुई कसरत दिनचर्या कुछ और बार करने की कोशिश करिए. हो सकता है ,यह अर्थव्यवस्था को रफ्तार दे दे.’’ उन्होंने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए पेश किए गए आम बजट को खोखला करार देते हुए शनिवार को दावा किया कि बजट में रोजगार सृजन और अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के ठोस उपाय नहीं हैं. राहुल ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘आज देश के सामने बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था की स्थिति प्रमुख मुद्दा हैं. लेकिन मुझे बजट में कोई ठोस विचार नहीं दिखा जिससे कहा जाए कि हमारे नौजवानों को रोजगार मिलेगा.’’ Also Read - राहुल गांधी को कुमारस्वामी का जवाबः क्षेत्रीय दलों से डर रही है कांग्रेस, इन्हीं के बूते 10 साल तक सत्ता में रही

Also Read - PSI Recruitment Scam: उम्मीदवारों ने पीएम मोदी को खून से लिखी चिट्ठी, कहा आतंकवादी बन जाएंगे

उन्होंने दावा किया, ‘‘ इसमें सरकार की खूब सराहना की गई. कई बातों को दोहराया गया. इसमें कुछ ठोस नहीं, यह सिर्फ सरकार की सोच है. खूब बातें हो रही हैं, लेकिन किया कुछ नहीं जा रहा. देश मुश्किल का सामना कर रहा है. युवाओं को रोजगार नहीं मिला.’’ कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, ‘‘सरकार ने कर व्यवस्था के सरलीकरण की बात कही थी, लेकिन उसे और जटिल बना दिया. बजट में कुछ नहीं. यह खोखला है.’’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने शनिवार को यह दावा किया कि बजट से साबित होता है कि केन्द्र की नरेंद्र मोदी सरकार अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने की उम्मीद छोड़ चुकी है. उन्होंने कहा था कि बजट में ऐसा कुछ नहीं है जिससे किसी को यह यकीन हो कि आर्थिक वृद्धि में 2020-21 में नयी जान आएगी.

(इनपुट भाषा)