नई दिल्‍ली: रेलवे बोर्ड ने आज 39 नई ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दे दी है. जल्‍द ही इन ट्रेनों की स्‍पेशल सेवाओं की शुरुआत की तारीख की घोषणा जल्‍द ही की जाएगी. भारत सरकार के रेलवे मंत्रालय ने बताया कि इस स्‍पेशल सविसेज की शुरुआत सुविधाजनक तारीख से की जाएगी. Also Read - IRCTC/Indian Railway: ट्रेनों में अब नहीं मिलेगा खाना? जानें क्या है रेलवे की योजना

भारत सरकार और रेलवे मंत्रालय ने इन ट्रेनों के चलाने की मंजूरी रेलवे बोर्ड को दे दी है. Also Read - WAR के गाने पर डॉक्टर ने पीपीई किट पहने किया जबरदस्त डांस, ऋतिक बोले- ये स्टेप्स तो...

Also Read - School Reopen: महामारी के कारण बदल गए हैं हमारे स्कूल, इन राज्यों में क्लास करने पहुंचे छात्रों की देखें तस्वीर

मुंबई के डब्बावालों और वाणिज्यिक दूतावास के कर्मियों को लोकल ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति मिली
मुंबई: मुंबई के डब्बावालों तथा विदेशी वाणिज्यिक दूतावासों और उच्चायोग के कर्मचारियों को लोकल ट्रेन में सफर करने की अनुमति दे दी गई है. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. वर्तमान में लोकल ट्रेन केवल आवश्यक सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों के लिए चलाई जा रही है.

टिफिन सेवा के 130 साल के इतिहास में पहली बार लंबा अवरोध
मुंबई में खाने के डिब्बे पहुंचाने वाले प्रसिद्ध डब्बावालों ने पिछले महीने कहा था कि ”टिफिन सेवा के 130 साल के इतिहास में कभी भी छह महीने का अंतराल नहीं आया था.” डब्बावालों ने पूरी क्षमता के साथ अपनी सेवा बहाल करने के वास्ते लोकल ट्रेन उपयोग करने की सुविधा दिए जाने की मांग की थी.

5 हजार डब्बावाले दो लाख से अधिक टिफिन पहुंचाते थे
महानगर में पांच हजार से अधिक डब्बावाले टिफिन पहुंचाने का व्यवसाय करते हैं. कोविड-19 महामारी फैलने से पहले सामान्य दिनों में वे कार्यालय जाने वाले लोगों तक दो लाख से अधिक टिफिन पहुंचाते थे. समय पर टिफिन पहुंचाने के लिए डब्बावाले उपनगरीय ट्रेन सेवा का सहारा लेते थे.

ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति मिलने पर खुशी जताई
कोविड-19 के प्रतिबंधों के चलते, केवल वही डब्बावाले सेवाएं दे रहे हैं, जो दक्षिण मुंबई में साइकिल से जा सकते हैं. मंगलवार से लोकल ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति मिलने के बाद अब उन्होंने प्रसन्नता जाहिर की है. मुंबई डब्बावाला संघ के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने लोकल ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति मिलने पर खुशी जताई है.