नई दिल्ली: रेल मंत्री पीयूष गोयल ने छोटे कस्बों को बड़े शहरों से जोड़ने वाली नौ ट्रेनों को मंगलवार को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया और कहा कि इनमें से एक वडनगर-मेहसाणा ट्रेन रेलवे की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को तोहफा है क्योंकि मोदी शुरुआती दिनों में वडनगर स्टेशन पर चाय बेचा करते थे. गोयल ने कहा कि रेलवे ने बिना किसी अतिरिक्त निवेश के नौ ‘सेवा सर्विस’ ट्रेनों की शुरुआत की है और यह मौजूद संसाधनों के अधिकतम इस्तेमाल का एक उदाहरण है. Also Read - Indian Railways News: जल्द ही देश के सभी रेलवे स्टेशनों पर मिलेगी कुल्हड़ वाली चाय, रेल मंत्री पीयूष गोयल ने किया एलान

रेल मंत्री ने कहा,‘‘ बिना किसी खर्च के, बिना किसी निवेश के हमने उपलब्ध संसाधनों से इन नौ ट्रेनों की शुरुआत की है….इन ट्रेनों में से एक वडनगर से मेहसाणा जाती है. वडनगर स्टेशन में चाय बेचने वाला देश का प्रधानमंत्री बन गया और वडनगर को मेहसाणा से जोड़ कर रेलवे ने आज प्रधानमंत्री को तोहफा दिया है.’’ नौ ‘सेवा सर्विस’ ट्रेनों में से दिल्ली से शामली, भुवनेश्वर से नयागढ़ कस्बा, मुरकोंगसेलेक से डिब्रूगढ़ तथा कोयंबटूर से पलानी के बीच ट्रेन प्रतिदिन चलेगी. Also Read - Latest Railways News: रेलवे इस राज्‍य में 2 दिसंबर से चलाएगा 54 ट्रेनें

वहीं, वडनगर से मेहसाणा, असरया से हिम्मतनगर,करूर से सलेम, यशवंतपुर से तुमकुर,कोयंबटूर से पोल्लाची के बीच ट्रेनें सप्ताह में छह दिन चलेंगी. कोटा-झालावाड़ के बीच सेवा सर्विस ट्रेन का उद्घाटन फिलहाल रोक दिया गया है. इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान,हर्षवर्धन,सांसद मीनाक्षी लेखी समेत अन्य लोग मौजूद थे. Also Read - Import duty on Gold: रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्धन परिषद के सुझाव पर सरकार कर रही है विचार, घट सकता है सोने पर आयात शुल्क

(इनपुट भाषा)