कोलकाताः पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(Mamata Banerjee) ने शुक्रवार को कहा कि ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के उद्घाटन की सूचना न दिए जाने से वह आहत हैं, क्योंकि इस परियोजना को मंजूरी उस दौरान मिली थी, जब वह रेलमंत्री थीं. Also Read - Bengal Lockdown News: क्या बंगाल में है संपूर्ण लॉकडाउन की तैयारी? जानें CM ममता बनर्जी ने क्या कहा...

रेलमंत्री पीयूष गोयल(Piyush Goyal) ने गुरुवार को कोलकाता में साल्ट लेक सेक्टर-5 से साल्ट लेक स्टेडियम रूट (4.8 किलोमीटर) मेट्रो कॉरिडोर का उद्घाटन किया था. इस मौके पर मुख्यमंत्री को आमंत्रित नहीं किया गया, लेकिन उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस के कुछ प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया. तृणमूल प्रतिनिधियों ने इस आमंत्रण का बहिष्कार किया और ममता बनर्जी को न बुलाए जाने पर आक्रोश प्रकट किया. Also Read - ममता बनर्जी के मंत्र‍ियों को शपथ द‍िलाने के बाद राज्‍यपाल ने दी नसीहतें ... तो ये लोकतंत्र का अंत है

पुलवामा आतंकी घटना की वर्षगांठ पर शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी Also Read - West Bengal Cabinet swearing: ममता बनर्जी का नया मंत्र‍िमंडल, 43 मंत्र‍ियों ने ली शपथ

ममता ने कहा, “ईस्ट-वेस्ट मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए मैंने कड़ी मेहनत की थी. उस समय मैं यूपीए सरकार में रेलमंत्री थी. इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दिलाने में मुझे काफी मशक्कत करनी पड़ी थी. इसके लिए हमने बड़ी मुश्किल से फंड जुटाया था. यहां के लोग यह बात जानते हैं. मुझे दुख है कि इसके उद्घाटन की मुझे जानकारी तक नहीं दी गई.”