नई दिल्ली. ठंड ने दस्तक दे दी है और इसमें रेल यात्रियों के लिए सबसे बड़ी चिंता ट्रेनों के लेट होने की और टिकट की अनुपलब्धता की होती है. इन चिंताओं के बीच उनके लिए रेलवे एक खुशखबरी भी लेकर आई है. रेलवे एक नई सेवा की शुरुआत की है, जिसके तहत आरएसी और वेटिंग टिकट वालों को कंफर्म टिकट मिल सकता है. इसके लिए रेलवे ने टीटीई को एक टैबलेट दिवाइस देने की योजना बनाई है. इससे वह चलती ट्रेन में रियल टाइम बेसिस पर जानकारी अपडेट करा सकेंगे. Also Read - पंजाब में ट्रेनों को रोकना किसान हितों के खिलाफ, यूनियन का फैसला ठीक नहीं: सीएम अमरिंदर सिंह

रेलवे ने इस नई योजना की शुरुआत के लिए एक टेबलेट डिवाइस तैयार की है. इसका नाम HHTs (हैंड-हेल्ड टर्मिनल्ट) कहा जाता है. यह फैसिलिटी सबसे पहले प्रीमियम ट्रेन (शताब्दी और राजधानी) में शूरू की जाएगी. बता दें कि फिलहाल टीटीई पेपर पर दर्ज किए गए रिजर्वेशन चार्ट के जरिए टिकट चेक करते हैं. Also Read - India Railway Chhath Puja Special Trains: छठ पर जाना चाहते हैं बिहार, झारखंड तो देखें ये लिस्ट, रेलवे ने चलाई स्पेशल ट्रेन

ऐसे काम करेगा डिवाइस
HHTs के जरिए टीटीई अब चलती ट्रेन में सीटों का हाल चेक कर सकते हैं. ऐसे में टिकटे कैंसिल होने और पैसेंजर्स की ट्रेन छूटने या छोड़ने जैसी स्थिति में वेटिंग और आरएसी टिकट के कंफर्म होने की गुंजाइश बढ़ जाएगी. इसके साथ ही यह बीच में पड़ने वाले छोटे स्टेशनों के चार्ट डाउनलोड होने से आधे रास्ते में भी कंफर्म टिकट मिल सकता है. इसके अलावा ट्रेन में मौजूद बेटिकट यात्रियों का टिकट भी इस डिवाइस के जरिए आसानी से बनाया जा सकेगा. Also Read - रेलवे का पंजाब में ट्रेन सेवा शुरू करने से इन्कार, कहा- स्टेशनों के आसपास जमा हैं आंदोलनकारी