नई दिल्ली. भारतीय रेल के थर्ड एसी से भी काफी कम किराये में एसी में सफर कराने वाली गरीब रथ ट्रेन (Garib Rath) का संचालन बंद नहीं होगा. जी हां, गरीब रथ से सफर करने वाले यात्रियों के लिए यह बहुत बड़ी राहत देने वाली खबर है. रेल मंत्रालय ने यह अहम एलान कर दिया है कि अभी इस ट्रेन का संचालन बंद नहीं किया जाएगा. दरअसल, पिछले साल गरीब रथ ट्रेनों का संचालन बंद करने और हाल के दिनों में ऐसी दो ट्रेनों को मेल एक्सप्रेस में बदल दिए जाने के बाद रेल यात्रियों को यह डर सता रहा था कि देश के कई अन्य रूटों पर चलने वाली गरीब रथ ट्रेनों का संचालन भी बंद किया जाएगा. खासकर, बिहार और यूपी के कई रूटों पर चलने वाली इन ट्रेनों के हमसफर एक्सप्रेस में बदले जाने की खबरों ने रेल यात्रियों की नींद उड़ा दी थी. लेकिन अब रेल मंत्रालय ने इस संबंध में फैली गलत सूचनाओं को खारिज कर दिया है.

रेल मंत्रालय ने गरीब रथ एक्सप्रेस ट्रेन का परिचालन बंद करने की खबरों को खारिज कर दिया है. मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि गरीब रथ ट्रेनों का संचालन बंद करने जैसी कोई योजना नहीं है. रेल मंत्रालय ने एक बयान में कहा, “यह स्पष्ट किया जाता है कि गरीब रथ की सेवा बंद करने का कोई प्रस्ताव नहीं है.” मंत्रालय ने कहा, “यह काफी लोकप्रिय सेवा है, क्योंकि इसमें सामान्य एससी-3 टियर से कम किराये पर वातानुकूलित यात्रा की सेवा प्रदान की जाती है.”

हाल के दिनों में दो गरीब रथ ट्रेनों को मेल एक्सप्रेस ट्रेन में बदल दिए जाने की वजह भी रेल मंत्रालय ने स्पष्ट कर दी है. रेलवे ने कहा कि कोचों की कमी के कारण उत्तर रेलवे में साप्ताहिक दो जोड़ी गरीब रथ ट्रेनों की सेवा का संचालन अस्थायी रूप से एक्सप्रेस ट्रेन के रूप में किया गया. आपको बता दें कि रेलवे ने दो गरीब रथ एक्सप्रेस काठगोदाम-जम्मू तवी और कानपुर-काठगोदाम के रैक का उपयोग अस्थायी तौर पर एक्सप्रेस ट्रेन की सेवा के रूप में किया. मंत्रालय ने कहा, “इन मार्गो पर हालांकि चार अगस्त से गरीब रथ की सेवा बहाल की जाएगी.”

आपको बता दें कि पिछले साल रेलवे ने कहा था कि गरीब रथ ट्रेनों का संचालन आने वाले समय में बंद कर दिया जाएगा. इन ट्रेनों की जगह अत्याधुनिक सेवाओं से सजी हमसफर एक्सप्रेस का परिचालन शुरू किया जाएगा. इस खबर से गरीब रथ से सफर करने वाले यात्री काफी निराश थे. गरीब रथ ट्रेनों में जहां थर्ड एसी से भी कम किराये में सफर किया जा सकता है, वहीं हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन का किराया मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के थर्ड एसी कोच के मुकाबले ज्यादा होता है. ऊपर से हमसफर एक्सप्रेस में रेलवे ने डायनामिक-फेयर सिस्टम लागू कर रखा है. इस किराया प्रणाली में ज्यों-ज्यों ट्रेन में आरक्षित सीटों की संख्या कम होती जाती है, किराये में इसी के अनुसार बढ़ोतरी होती जाती है. यही वजह थी कि रेल यात्रियों में गरीब रथ ट्रेनों का परिचालन बंद किए जाने की खबरों से नाराजगी थी.

(इनपुट – एजेंसी)