नई दिल्लीः यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए रेलवे हर दिन नए कुछ नया कर रहा है. पारदर्शिता पर भी रेलवे का जोर है. यही कारण है कि वह लोगों को अपनी सेवाओं से जोड़ने के लिए नई-नई चीजें पेश कर रहा है. इसके लिए तकनीक की मदद ले रहा है. इसी के तहत पारदर्शिता लाने और जवाबदेही तय करने के लिए रेलवे 200 से ज्यादा ऐप्स बना रहा है. ये ऐप्स यात्रियों, रेलवे के स्टेक हॉल्डर्स और कर्मचारियों के लिए होंगे. Also Read - दिवाली से पहले विदेशों से मंगाया जाएगा 25 हजार टन प्याज, त्योहारी सीजन में दाम घटने की उम्मीद

आने वाले दिनों में ये ऐप्स लॉन्च होंगे. ‘रेल मदद’ ऐप के जरिए यात्रा के दौरान होने वाली परेशानी, और सुविधाओं को लेकर यात्री शिकायत दर्ज करा सकेंगे. रेलवे का कहना है कि यह ऐप बनकर तैयार है और इसे जल्द ही लॉन्च किया जाएगा. Also Read - IRCTC/ Indian Railways: इस Card के रिवॉर्ड पॉइंट्स के जरिए फ्री में बुक करें रेल टिकट, जानिए कैसे

‘मेन्यू ऑन रेल’ इस ऐप की मदद से ट्रेन और स्टेशन पर मिलने वाले फूड आइटम और उसकी कीमत की जानकारी मिलेगी. इस ऐप की मदद से अलग-अलग ट्रेनों जैसे पैसेंजर, शताब्दी, राजधानी और सुफरफास्ट ट्रेन में मिलने वाले फूड आइटम की भी जानकारी हासिल की जा सकती है. रेल मंत्री पीयूष गोयल का कहना है कि इन ऐप्स की मदद से रेलवे की सर्विस को रिशेप किया जाएगा. इसकी मदद से रेलवे की सुविधाओं के बारे में लोगों को बताया जाएगा. इससे रेलवे की जवाबदेही भी बढ़ेगी. Also Read - RRB NTPC के 1.4 लाख वैकेंसी के लिए 2.4 करोड़ लोगों ने किया आवेदन, जानें परीक्षा आयोजित करने को लेकर RRB की क्या है तैयारी   

अन्य ऐप की मदद से लोग टूरिज्म और रेल म्यूजियम की जानकारी हासिल कर सकते हैं. रेलवे कर्मचारियों के लिए जो ऐप बनाया जा रहा है उसके माध्यम से कर्मचारी सैलरी डिटेल, छुट्टियों की जानकारी सहित हर तरह की जानकारी हासिल कर सकेंगे.

रेलवे का कहना है कि ऐप की मदद से रेलवे के अधिकारियों के लिए गेस्ट हाउस भी बुक होंगे. वहीं रेलवे कॉलोनियों की साफ सफाई और रख रखाव को भी ऐप्स की मदद से ट्रैक किया जा सकेगा. इतना ही नहीं इन ऐप्स की मदद से लोग फुटओवर ब्रिज, स्टेशनों पर स्वचलित सीढ़ियों के स्टॉलनेशन, अंडरपास के निर्माण सहित रेलवे में होने वाले हर तरह के विकास कार्यों की जानकारी हासिल कर सकेंगे.