भुवनेश्वर: पूर्वी तटीय रेलवे (ईसीओआर) ने यात्रियों में देशभक्ति पैदा करने के लिए जोन के 26 रेलवे स्टेशनों पर 100 फुट ऊंचे स्तंभों पर राष्ट्रीय ध्वज ‘तिरंगा’ लगाने का फैसला किया है. रेलवे ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि यात्रियों में राष्ट्रवाद और देशभक्ति की भावना पैदा करने के रेल मंत्रालय के निर्देश के तहत रेल मुख्यालयों, ऐतिहासिक स्थलों और पर्यटन स्थलों पर ऊंचे राष्ट्रीय ध्वज लगाने का निर्णय लिया गया है. भुवनेश्वर और विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशनों पर राष्ट्रीय ध्वज पहले ही लगाए जा चुके हैं.

सुनिश्चित करेंगे कि केंद्रीय अर्धसैनिक को सालाना 100 दिन परिवार के साथ रहने का मौका मिले: शाह

बयान में कहा गया कि तिरंगा लगाने के लिए प्रस्तावित अन्य स्टेशनों में खुर्दा रोड रेल संभाग में 13, वाल्टेयर में सात और संबलपुर में छह स्टेशन शामिल हैं. इन स्टेशनों पर दृश्यता, स्थान की उपलब्धता और अन्य सुरक्षा उपाय को देखते हुए राष्ट्रीय ध्वज स्थापित किए जाएंगे. खुर्दा रोड संभाग के अंतर्गत प्रस्तावित स्टेशन पुरी, कटक, भद्रक, जाजपुर, क्योंझर रोड, केंदुझर, अंगुल, ढेंकनाल, खुर्दा रोड, खुर्दा शहर, नयागढ़ शहर, ब्रह्मपुर, छतरपुर और पारादीप हैं. संबलपुर संभाग के अंतर्गत संबलपुर, बारगढ़ रोड, भवानीपटना और महासमुंद रेलवे स्टेशनों, जबकि वाल्टेयर संभाग के अंतर्गत कोरापुट, रायगढ़, पारालाखेमुंडी, श्रीकाकुलम रोड, विजयनगरम, जगदलपुर और दंतेवाड़ा रेलवे स्टेशन शामिल हैं.

इसके अलावा बयान में कहा गया है कि संबंधित स्टेशन प्रशासन और आरपीएफ चौकी ध्वज की सुरक्षा, संरक्षा और रखरखाव का काम देखेंगे.