नई दिल्ली: कोरोना महामारी के दौरान कैंसिल किए गए टिकटों के एवज में उत्तर रेलवे ने यात्रियों को 1885 करोड़ रुपये लौटा दिया है. इन ट्रेनों को भारतीय रेल ने देश भर में कोरोना वायरस महामारी के फैलाव को रोकने के लिए रद्द की थी. उत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार ने बताया कि इन टिकटों की बुकिंग 21 मार्च से 31 मई के बीच ऑनलाइन की गई थी.Also Read - Indian Railway Recruitment 2021: 8वीं, 10वीं के लिए भारतीय रेलवे में बिना परीक्षा के मिल सकती है नौकरी, जल्द करें आवेदन, होगी अच्छी सैलरी

इस दौरान यात्रियों को पृरी रकम लौटाई गई है. उन्होंने यह भी बताया कि रेलवे ने यह रकम उन एकाउंट्स में लौटा दिया है, जिस एकाउंट्स के जरिए टिकट खरीदे गए थे. इसके साथ ही रेलवे ने यह भी दावा किया है कि सभी रकम को तय समय सीमा के भीतर लौटाया गया है. Also Read - झारखंड में कोरोना वायरस का असर हुआ बेहद कम, सिर्फ 23 नए मामले सामने आए

गौरतलब है कि रेलवे ने देश भर में कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए यात्री ट्रेनों का परिचालन रद्द कर दिया था. इस दौरान भारी संख्या में ट्रेनों को रद्द किया गया, जिसकी वजह से रेलवे को यात्रियों को उनके रकम वापस लौटाने में युद्धस्तर पर काम करना पड़ा. Also Read - केरल में कोरोना वायरस के 23,676 नए मामले आए, 148 और मौतें हुईं