नई दिल्ली: इंडियन रेलवे ने फेस्टिव सीजन में यात्रा करने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर है दी है. रेलवे 15 अक्टूबर से 30 नवंबर तक के त्यौहारी सीजन में 200 और ट्रेनें चलाएगा. लोगों को असुविधा से बचाने के लिए करीब 200 ट्रेनों को चलाने की जरूरत सामने आई है. Also Read - भारत की आधी आबादी फरवरी 2021 तक हो सकती है Coronavirus से संक्रमित : सरकारी पैनल

रेलवे ने दिल्ली को देश के विभिन्न भागों से जोड़ने वाली 15 विशेष राजधानी ट्रेनें का संचालय 12 मई से और एक जूने से लंबी दूरी की 100 ट्रेनों का संचालन शुरू किया था. रेलवे 12 सितंबर से 80 अतिरिक्त ट्रेनें भी चला रही है. Also Read - IRCTC/Indian Railways: बिहार, यूपी समेत इन राज्यों के लिए आज से पटरी पर दौडे़ंगी करीब 400 ट्रेनें- जानें रूट्स और किराया, देखें पूरी LIST

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ वीके यादव ने गुरुवार को कहा है कि रेलवे ने 15 अक्टूबर से 30 नवंबर तक के त्यौहारी सीजन में 200 और ट्रेनें चलाने का फैसला किया है. यादव ने यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, “हमने विभिन्न जोनल प्रबंधकों से बात की और उनसे पूछे कि त्यौहारी सीजन में लोगों को असुविधा से बचाने के लिए कितनी ट्रेनों की जरूरत है तो हमारे सामने करीब 200 का आंकड़ा आया. इसी आधार पर हम त्यौहारी सीजन में इससे कहीं अधिक ट्रेनें चलाने का फैसला कर चुके हैं. Also Read - IRCTC/Indian Railways: बिहार, यूपी समेत इन राज्यों के लिए कल से पटरी पर दौडे़ंगी करीब 400 ट्रेनें- जानें रूट्स, किराया और सफर की गाइडलाइंस

बता दें रेलवे ने 25 मार्च को सभी तरह की पैसेंजर, मेल एवं एक्सप्रेस ट्रेनों को कोरोनावायरस के कारण अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दिया था. सभी रूटों पर सिर्फ स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं. इसके अलावा रेलवे ने दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई थीं.