अलवर: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बेरोजगारी, भ्रष्टाचार और किसानों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोलते हुए मंगलवार को कहा कि मोदी अपने हर भाषण में भारत माता की जय बोलते हैं लेकिन काम करते हैं अनिल अंबानी के लिए. राहुल ने यह भी कहा कि देश के कुछ प्रमुख उद्योगपतियों ने ही मोदी को प्रधानमंत्री बनाया. Also Read - West Bengal Assembly Election: कांग्रेस का ममता बनर्जी को बड़ा ऑफर, कहा- पश्चिम बंगाल में मिलकर चुनाव लड़े TMC, बीजेपी से...

यहां चुनावी रैली में अपने भाषण के शुरू से ही आक्रामक दिख रहे राहुल ने सबसे पहले रोजगार के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को घेरा. उन्होंने अलवर के चार बेरोजगार युवाओं द्वारा एक साथ आत्महत्या किए जाने की घटना का जिक्र करते हुए कहा, ‘अगर आपने रोजगार दिया तो हिन्दुस्तान के इतिहास में पहली बार अलवर में चार युवाओं ने एक साथ आत्महत्या क्यों की?’ उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से कहा ‘‘आप अनिल अंबानी को रोज फोन करते हैं लेकिन क्या कभी आपने इन चारों युवाओं के परिवार को भी फोन किया ?’’ Also Read - कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल-प्रियंका भी हुए शामिल, कहा- पूंजीपतियों को फायदा पहुंचा रही बीजेपी

इसके साथ ही राजस्थान में सत्ता में आने पर किसानों का कर्ज माफ करने तथा युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए काम करने का वादा भी राहुल ने अपनी इस सभा में किया. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक तरफ युवा आत्महत्या कर रहे हैं और दूसरी ओर किसान आत्महत्या कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘हर भाषण में मोदी कहते हैं – भारत माता की जय, और काम करते हैं अनिल अंबानी के लिये.. उन्हें अपने भाषण की शुरुआत करनी चाहिए अनिल अंबानी की जय…मेहुल चौकसी की जय.. नीरव मोदी की जय….ललित मोदी की जय से.’’ Also Read - राहुल गांधी की अपील- पेट्रोल-डीज़ल के बढ़ते जा रहे दाम, किसान भी परेशान, सरकार के खिलाफ 'सत्याग्रह' में शामिल हों लोग

राहुल ने सवाल किया कि प्रधानमंत्री मोदी भारत माता की बात करते हैं … ‘‘तो आप किसानों को कैसे भूल गए? आपने 15 लोगों का 3.5 लाख करोड़ रूपये का कर्ज माफ किया मगर अलवर और राजस्थान के किसानों का आपने एक रूपया भी माफ नहीं किया.’’ उन्होंने कहा कि मोदी अब अपने किसी भी भाषण में राफेल की, रोजगार की बात नहीं करते. कांग्रेस अध्यक्ष ने नोटबंदी को लेकर भी मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा, ‘‘नोटबंदी कालेधन के खिलाफ लड़ाई नहीं थी बल्कि यह तो (धन) सफेद करने के लिए थी … इसलिये मोदी ने आपको कतार में खड़ा कर आपका पैसा लिया उनका पैसा माफ किया.’’

बड़े उद्योगपतियों ने मोदी को प्रधानमंत्री बनाया
राहुल ने कहा कि देश के बड़े उद्योगपतियों ने मोदी को प्रधानमंत्री बनाया. उन्होंने कहा, ‘‘मोदी जी की सरकार को हिन्दुस्तान के सबसे बडे़ उद्योगपतियों ने बनाया था, मार्केटिंग उनकी थी..टेलीविजन पर उनकी फोटो लगाई.. बड़ी बड़ी मीटिंग के लिये उनको पैसा दिया..उद्योगपतियों ने नरेन्द्र मोदी को हिन्दुस्तान का प्रधानमंत्री बनाया इसलिये नरेन्द्र मोदी ने अनिल अंबानी को 30 हजार करोड़ रूपये दिये.’’

उन्होंने कहा, ‘‘राजस्थान की सरकार को कोई उद्योगपति नहीं बना रहा है, राजस्थान की सरकार को किसान, मजदूर, छोटे दुकानदार बनाने जा रहे हैं और कांग्रेस पार्टी की जैसे ही सरकार आयेगी, दस दिन के अंदर किसानों का कर्जा माफ होगा.’’ केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी उज्ज्वला योजना पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘‘मोदी जी हर भाषण में कहते हैं कि हर महिला को गैस सिलेंडर दिया लेकिन यह नहीं कहते कि पहले यह सिलेंडर साढे़ तीन सौ रूपये का मिलता था, अब हजार रुपये में देता हूं और पहले कांग्रेस पार्टी जो केरोसिन देती थी वह भी छीन लिया.’’

कांग्रेस अध्यक्ष ने फसल बीमा योजना को लेकर भी तंज कसे और आरोप लगाया कि इसमें किसानों द्वारा जमा करवाए गए 45000 करोड़ रुपये में से 16000 करोड़ रुपये देश के सबसे अमीर लोगों की जेब में गये हैं. राहुल ने कहा, ‘‘यह बीमा की योजना नहीं है. इसको अनिल अंबानी योजना, मेहुल चोकसी, नीरव मोदी विजय माल्या योजना कहना चाहिए. प्रधानमंत्री का, मुख्यमंत्री का सारा लक्ष्य यही था कि राजस्थान की जनता का पैसा उठाकर इन 15-20 लोगों को दो.’’ राहुल गांधी ने कहा ‘‘पहले प्रधानमंत्री मोदी कहते थे कि ‘अच्छे दिन …’ तो जनता जवाब देती थी ‘… आएंगे’. लेकिन अब नया नारा निकला है ‘चौकीदार…’ फिर जनता से जवाब मिला ‘… चोर है.’’ इससे पहले सभा को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी संबोधित किया.