नई दिल्ली: राजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे हैं. उन्होंने पार्टी प्रमुख से मिलने के लिए समय मांगा है. यह जानकारी सूत्रों के हवाले से रविवार को मिली है. सूत्रों ने बताया कि पायलट के खेमे के करीब एक दर्जन विधायक एनसीआर-दिल्ली क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर ठहरे हुए हैं. पायलट शनिवार को दिल्ली आए थे. Also Read - सचिन पायलट की लैंडिंग के बाद आज से शुरू होगा विधानसभा सत्र, कांग्रेस लाएगी विश्वासमत प्रस्ताव, जानें भाजपा की रणनीति

सूत्रों के अनुसार, पायलट खेमे के सदस्य माने जाने वाले विधायक पी. आर. मीणा ने राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार द्वारा उनसे किए जाने वाले सौतेले व्यवहार से सोनिया गांधी को अवगत कराने के लिए उनसे मिलने की मांग की थी. Also Read - PM नरेंद्र मोदी का नया रिकॉर्ड, सबसे लंबे समय तक रहने वाले पहले गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री बने

इसी बीच मुख्यमंत्री गहलोत ने शनिवार देर रात जयपुर में अपने आधिकारिक आवास पर अपने मंत्रियों की बैठक बुलाई और सभी पार्टी विधायकों को उन्हें समर्थन पत्र देने को कहा. इस कार्य के लिए वरिष्ठ मंत्रियों को चुना गया है. हालांकि पायलट खेमे के मंत्री इस बैठक में शामिल नहीं हुए. Also Read - राजस्थान: विश्वास मत लाएगी कांग्रेस, अशोक गहलोत बोले- हम 'इनके' बिना भी बहुमत में थे, लेकिन अपने तो अपने होते हैं

गहलोत ने शनिवार की देर शाम अपने सरकारी आवास पर मंत्रियों की बैठक बुलाई थी, इसमें पार्टी के सभी विधायकों को उनके लिए समर्थन पत्र लिखने को कहा गया. इसमें कई वरिष्ठ मंत्री आए लेकिन पायलट शिविर के मंत्री इस बैठक में शामिल नहीं हुए.

यह भी पता चला है कि गहलोत ने सोनिया गांधी, राजस्थान प्रभारी अविनाश पांडे और पार्टी महासचिव के.सी. वेणुगोपाल को राज्य में चल रहे घटनाक्रमों से अवगत कराया है.

वैसे तो राज्य सरकार ने कोविड -19 प्रसार के नाम पर सीमाओं को सील कर दिया है. इससे पहले भी राज्यसभा चुनावों के चलते सीमाओं को सील कर दिया गया था. तब भी मुख्यमंत्री ने ‘हॉर्स-ट्रेडिंग’ की योजनाओं को लेकर भाजपा पर निशाना साधा था.

अभी फिर से गहलोत द्वारा खुले तौर पर भाजपा पर ‘हॉर्स-ट्रेडिंग’ करने और उनकी सरकार को गिराने की कोशिश करने का आरोप लगाए जाने के बाद भाजपा ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है. भाजपा ने कहा है कि कांग्रेस अपना घर संभालने में सक्षम नहीं है.