मुंबई: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को पाकिस्तान को चेताया कि अगर उसने आतंकवाद को समर्थन देना नहीं रोका तो वित्तीय कार्रवाई कार्यबल (एफएटीएफ) उसे काली सूची में डाल देगा. मुंबई में 26/11 के आतंकी हमले की 11वीं बरसी के मौके पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिंह ने कहा कि भारत अब एक ‘‘सॉफ्ट टारगेट’’ नहीं रह गया है.

सिंह ने कहा, ‘‘पिछले साढे पांच साल में हमारी सरकार ने भारत में सभी आतंकवादी ढांचों को नेस्तनाबूद कर दिया है और अब हम वित्तीय कार्रवाई कार्यबल की मदद से आतंक को वित्तपोषण करने वाले नेटवर्क को बर्बाद करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं.’’ उन्होंने कहा कि एफएटीएफ के कारण पाकिस्तान को जल्द ही झटका लगने वाला है.

उन्होंने कहा कि एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ‘ग्रे सूची’ में रखा है और अगर उसने आतंकवाद को समर्थन करना बंद नहीं किया तो निश्चित तौर पर उसका नाम काली सूची में होगा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान मंदी और महंगाई का सामना कर रहा है और एफएटीएफ द्वारा काली सूची में डाला जाना उसके लिए बड़े झटके के तौर पर होगा.

(इनपुट भाषा)