अहमदाबाद. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को पूछा कि अगर पाकिस्तान के विभाजन के लिए पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को श्रेय दिया जा सकता है तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बालाकोट हवाई हमले के लिए श्रेय क्यों नहीं मिलना चाहिए. राजनाथ सिंह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के समर्थन में यहां एक रैली को संबोधित कर रहे थे. शाह दिन में गांधीनगर लोकसभा सीट से अपना नामांकन भरेंगे. Also Read - राम जन्मभूमि ट्रस्ट के प्रमुख महंत नृत्य गोपाल दास COVID पॉजिटिव, मेदांता हॉस्पिटल में किए जा सकते हैं भर्ती

उन्होंने कहा, यह हमारी सेनाओं की वीरता थी कि उन्होंने पाकिस्तान को दो हिस्सों में विभाजित किया. एक पाकिस्तान रहा जबकि दूसरा बांग्लादेश बना. राजनाथ सिंह ने कहा, युद्ध के बाद हमारे नेता ए बी वाजपेयी ने संसद में इंदिरा गांधी की तारीफ की। देशभर में उनकी तारीफ की गई. Also Read - अब इनकम टैक्स अफसरों से नहीं होगा सामना, पीएम ने लॉन्च की ये सेवा, जानिए अहम बातें

पुलवामा पर ये भी कहा
पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए गृह मंत्री ने कहा, जब हमारे 40-42 सीआरपीएफ जवानों ने फिदायीन हमले में जान गंवा दी तो मोदी जी ने हमारी सेनाओं को पूरी छूट दे दी. उन्होंने पूछा, अगर 1971 में पाकिस्तान के विभाजन का श्रेय इंदिरा गांधी को मिल सकता है तो मोदी जी ने बालाकोट में जो किया उसका श्रेय उन्हें क्यों नहीं मिलना चाहिए. Also Read - हिम्मत: 100 डायल कर दी PM Modi को जान से मारने की धमकी, फिर ये हुआ...

भाषा