नई दिल्ली: भाजपा के खिलाफ हाथ मिलाने वाले विपक्षी दलों ने राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए विपक्ष का संयुक्त उम्मीदवार चुनने के लिए मंगलवार को कांग्रेस को अधिकृत कर दिया. दरअसल, ज्यादातर दल अपना उम्मीदवार उतारने के इच्छुक नहीं थे, इसलिए सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी होने के नाते कांग्रेस को उम्मीदवार चुनने के लिए सर्वसम्मति से अधिकृत कर दिया गया. Also Read - चिकित्सा जांच के बाद स्वदेश लौटीं सोनिया गांधी, राहुल भी वापस आए

Also Read - शिवराज सरकार ने स्वीकारा- हाँ, कांग्रेस सरकार ने माफ़ किया था 27 लाख किसानों का कर्ज

तीसरे दौर की बैठक के बाद विपक्ष के एक नेता ने नाम उजागर न करने की शर्त पर कहा, ‘‘यद्यपि राकांपा की वंदना चव्हाण के नाम पर चर्चा की गई, लेकिन राकांपा अपना उम्मीदवार उतारने की इच्छुक नहीं थी. किसी अन्य दल ने भी अपना उम्मीदवार उतारने की बात नहीं कही, इसलिए उम्मीदवार चुनने के वास्ते कांग्रेस को अधिकृत किया गया. सभी विपक्षी दल कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन करेंगे.’’ Also Read - नोटिस मिलने पर NCP चीफ शरद पवार बोले- आईटी विभाग कुछ लोगों से प्यार करता है

राज्‍यसभा का उप सभापति चुनाव: ट्विटर पर भिड़े उमर और महबूबा, इमोजी बने तंज कसने का जरिया

इससे पहले ज्यादातर दलों ने वंदना चव्हाण के नाम पर कोई आपत्ति नहीं जताई थी. चव्हाण का नाम बसपा नेता सतीश मिश्र ने प्रस्तावित किया था और तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने इसका समर्थन किया था. इस प्रस्ताव को कांग्रेस सहित प्रत्येक विपक्षी दल का समर्थन मिला.

राकांपा की वंदना चव्‍हाण के जरिए राजग में सेंध लगाने की तैयारी, उप सभापति पद के लिए हो सकती हैं विपक्ष की उम्‍मीदवार

राज्यसभा में 50 सीट रखने वाली सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस ने शुरू में महसूस किया था कि इसके उम्मीदवार को तेदेपा जैसे कुछ दलों की ओर से कड़े विरोध का सामना करना पड़ सकता है. तेदेपा ने इस मुद्दे पर विपक्षी खेमे के साथ जाने का फैसला किया है. विपक्षी नेता के अनुसार तेदेपा बाद में कांग्रेस द्वारा उम्मीदवार चुने जाने पर सहमत हो गई.

उप-सभापति चुनाव: बिछी बिसात, एनडीए की ओर से आया ये नाम, विपक्ष में मंथन जारी

वरिष्ठ विपक्षी नेताओं के अनुसार बैठक के दौरान उन्होंने महसूस किया कि महाराष्ट्र से राकांपा के किसी उम्मीदवार को राजग की घटक शिवसेना का समर्थन मिल जाएगा. विपक्षी दल बीजद के भी संपर्क में हैं जिसने अभी तक पत्ते नहीं खोले हैं.

राज्यसभा: उपसभापति चुनाव के लिए तारीख का ऐलान, विपक्ष की रणनीति पर BJP का दांव

विपक्षी नेता के अनुसार विपक्षी दलों ने जदयू नेता एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा राजग उम्मीदवार के लिए बीजद का समर्थन मांगने के वास्ते ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात किए जाने के मुद्दे पर भी बैठक में चर्चा की. राजग ने राज्यसभा के उपसभापित पद के लिए नौ अगस्त को होने वाले चुनाव में जदयू के हरिवंश नारायण सिंह को मैदान में उतारा है. वर्तमान में सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों खेमे अपने उम्मीदवार के जिताने के वास्ते संख्या बल जुटाने की कोशिशों में लगे हैं.