नई दिल्ली: बिहार से राज्यसभा के लिए नामांकन दाखिल करने वाले जदयू प्रत्याशी महेन्द्र प्रसाद उर्फ ‘किंग महेन्द्र’ पैसे के मामले में भी ‘किंग’ साबित हुए हैं. जदयू कोटे से लगातार तीसरी बार पर्चा दाखिल करने वाले महेन्द्र प्रसाद चार हजार करोड़ से अधिक संपत्ति के मालिक हैं. इसके अलावा उनके देश-विदेश में आठ सौ से अधिक बैंक खाते हैं. ये सभी जानकारी उन्होंने राज्यसभा में नामांकन करने के दौरान दिए गए शपथ पत्र में दी हैं. बता दें कि अभी तक जया बच्चन ने सबसे ज्यादा संपत्ति (एक हजार करोड़) की घोषणा की थी.Also Read - Lalit Modi ने अहमदाबाद फ्रेंचाइजी के यूके में बेटिंग कारोबार पर उठाए सवाल, 'शायद कोई नया नियम आ गया है'

बिहार में होने वाले राज्यसभा चुनावों में सभी राजनीतिक दलों के उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल कर दिया है. नामांकन भरने वाले उम्मीदवारों में जदयू के 78 वर्षीय महेंद्र प्रसाद उर्फ किंग महेंद्र राज्यसभा के उम्मीदवारों में से सबसे अधिक अमीर हैं. उन्होंने अपने शपथ पत्र में संपत्ति की जो जानकारी दी है. उसके अनुसार उनकी चल संपत्ति 4,010.21 और अचल संपत्ति 29.1 करोड़ है. Also Read - Skin Care Tips Video: केले के छिलके रखते हैं एक्ने और ब्लैक हेड्स को दूर, आज ही अपनाएं और सुंदर त्वचा पाएं

दो फार्मा कंपनी से आय
महेन्द्र प्रसाद दो फार्मा कंपनी भी चलाते हैं, एक मप्रा लेबोरेट्रीज प्राइवेट लिमिटेड और दूसरी अरिस्टो फार्मास्यूटिकल्स. इन कंपनियों से उनकी आय की राशि 2,239 करोड़ है जो एसबीआइ में जमा है. शपथ पत्र के अनुसार, अरबपति नेता के पास किसी प्रकार का मोटर या वाहन बीमा नहीं है. लेकिन उनके पास 41 लाख के सोने के गहने हैं. 2016-17 के वित्तीय वर्ष में उन्होंने आयकर रिटर्न में अपना कुल आय 303.5 करोड़ बताया था. Also Read - T20 World Cup 2021: सलमान बट बोले- भारत ही बता सकता है उन्‍होंने चहल को क्‍यों नहीं लिया, अश्विन को बैंच पर क्‍यों बैठाए रखा ?

अब तक का राजनीतिक सफर
वे 1980 में पहली बार जहानाबाद लोकसभा से कांग्रेस टिकट पर चुनाव जीत कर संसद पहुंचे, लेकिन दूसरी बार 1984 में आम चुनाव हार गए. कांग्रेस ने 1985 में उन्हें राज्यसभा में फिर से जीत दिलाई और तब से ही वे उच्च सदन में कांग्रेस, आरजेडी और जेडीयू से चुनाव जीतते रहे हैं.

संसद में सबसे ज्यादा उपस्थिति 
सबसे अधिक बार संसद में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने वाले महेन्द्र प्रसाद 211 देशों का भ्रमण कर चुके हैं. उनकी अंतरराष्ट्रीय यात्रा को देखा जाए तो वे यूके की 53 बार दौरा कर चुके हैं और अमेरिका का 10 बार दौरा कर चुके हैं. इसके अलावा वे 9 अप्रैल 2002 से 8 अप्रैल 2003 के बीच एक साल में 84 देशों का भ्रमण कर चुके हैं. य मंत्री अखिलेश प्रसाद सिंह को मैदान में उतारा गया है।