Rakesh Tikait is True Patriotic: जननायक जनता पार्टी (जजपा) नेता दिग्विजय सिंह चौटाला ने किसान नेता राकेश टिकैत को सच्चा देशभक्त बताया और कहा कि उन्होंने हमेशा किसानों के हितों की बात की है. दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) के दौरान राष्ट्रीय राजधानी में हिंसा को लेकर राकेश टिकैत और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. दिग्विजय चौटाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘वह देश के महान किसान नेता महेंद्र सिंह टिकैत (Mahendra Singh Tikait) के पुत्र हैं. उन्हें राष्ट्रविरोधी कहना गलत है.’’Also Read - चंडीगढ़ और हिमाचल प्रदेश के हज़ारों डेयरी किसानों ने हड़ताल शुरू की, दूध की सप्लाई प्रभावित

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) द्वारा दर्ज मामलों का जिक्र करते हुए चौटाला ने कहा, “उन्होंने हमेशा किसानों के हितों की बात की है. अगर सरकार को कार्रवाई करनी है, तो उसे (गुरनाम सिंह) चढूनी जैसे लोगों को पकड़ना चाहिए, जिन्होंने लोगों को भड़काया. लेकिन राकेश टिकैत और किसान सच्चे देशभक्त हैं.” हरियाणा में भाजपा की सहयोगी जजपा पर राज्य के विपक्षी दलों और किसानों की ओर दबाव है कि वह भगवा दल से अपने संबंध तोड़ लें और कृषि कानूनों को लेकर आंदोलनरत किसानों का समर्थन करे. Also Read - पंजाब में नाराज किसान फिर धरने पर बैठे, सीएम भगवंत मान ने कहा-मैं भी किसान का बेटा, आपकी परेशानी समझ सकता हूं

इस बीच, इनेलो के वरिष्ठ नेता अभय सिंह चौटाला (Abhay Singh Chautala) ने कहा कि वह राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) और अन्य किसानों के प्रति एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए शनिवार को गाजीपुर में प्रदर्शन स्थल पर जाएंगे. उन्होंने कृषि कानूनों के मुद्दे पर विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने कहा कि हरियाणा से अधिक किसानों को गाजीपुर, टीकरी और सिंघू में प्रदर्शन स्थलों में जुटना चाहिए. हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओ पी चौटाला के बेटे अभय चौटाला (Abhay Singh Chautala) ने कहा, “मैं किसानों से कहना चाहता हूं कि सरकार यह प्रचारित करने की कोशिश कर रही है कि यह आंदोलन खत्म हो रहा है, जबकि ऐसा नहीं है. मैं किसानों से टीकरी, सिंघू और गाजीपुर सीमाओं पर बड़ी संख्या में पहुंचने की अपील करता हूं. मैं शनिवार दोपहर गाजीपुर सीमा पर पहुंचूंगा.’’ Also Read - पंजाब में 23 किसान संगठनों का मार्च, मोहाली-चंडीगढ़ बॉर्डर पर धरने पर बैठे | Watch Video

उन्होंने कहा कि हरियाणा के किसान हमेशा देश भर के अपने समकक्षों के साथ खड़े रहे हैं. इनेलो नेता ने कहा कि पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवी लाल ने जीवन भर किसानों के अधिकारों के लिए संघर्ष किया. अभय चौटाला ने कहा, “मैं उन सभी लोगों से आह्वान करता हूं, जो कृषि से संबंधित हैं, वे क्षुद्र हितों से ऊपर उठकर किसानों का समर्थन करें. हम किसानों के अधिकारों के लिए एकजुट होकर लड़ेंगे और उस समय तक इस आंदोलन का समर्थन करेंगे जब तक कि हम केंद्र को इन कानूनों को रद्द करने के लिए मजबूर नहीं कर देते.’’