मेरठ: यूपी में बीजेपी की प्रदेश इकाई के बीच राम मंदिर को लेकर अलग- अलग रुख सामने आए हैं. मेरठ में चल रही पार्टी की कार्यसमित में जहां एक दिन पहले प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय ने कहा था कि अयोध्या में राममंदिर कभी भी भाजपा के लिए चुनावी एजेंडा नहीं था, वहीं रविवार को पूर्व अध्यक्ष विनय कटियार ने कहा कि राम मंदिर न तो कभी भाजपा के एजेंडे से बाहर था और न ही होगा.

बीजेपी की स्टेट कमेटी की दो दिवसीय बैठक के समापन सत्र में भाग लेने आये कटियार ने मीडिया से कहा, ” बाबर के एजेंडे में राम मंदिर तोड़ना था, तो अब हर राम भक्त के एजेंडे में राम मंदिर बनवाना है. राम मंदिर न तो कभी भाजपा के एजेंडे से बाहर था और न ही होगा.” उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश सही दिशा में आगे बढ़ रहा है. लंबे समय से पार्टी में हो रही अनदेखी के सवाल पर उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन्हें काफी कुछ दिया है. राम मंदिर मुद्दे पर ही अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाली विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने कहा है कि ताकत के दम पर राम मंदिर बनकर रहेगा.

राम मंदिर कभी भी भाजपा के लिए चुनावी एजेंडा नहीं रहा: महेंद्रनाथ पांडे
एक दिन पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांड ने कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर कभी भी भाजपा के लिए चुनावी एजेंडा नहीं रहा. शनिवार को शुरू हुई दो दिवसीय प्रदेश कार्यसमिति की बैठक से पहले पांडे ने मीडियाकर्मियों से कहा कि राम मंदिर करोड़ों लोगों की आस्था का प्रतीक है. उन्होंने कहा था, ”मेरठ में 21 साल बाद हो रही प्रदेश कार्यसमिति का फैसला ऐतिहासिक होगा. जितना लक्ष्य हम पिछले लोकसभा और विधानसभा चुनाव में लेकर चले थे जनता ने उससे ज्यादा समर्थन दिया इस बार हम बैठक में 73 प्लस का लक्ष्य तय करेंगे. ” (इनपुट- एजेंसी)