नई दिल्ली: देश में कोरोना के बढ़ते प्रभाव के कारण सभी हस्तियां व मुस्लिम धर्म गुरुओं का कहना है कि रमजान का त्योहार घर पर ही मनाएं साथ ही नमाज भी घर में ही अदा करें ताकि कोरोना वायरस के प्रभाव को कम किया जा सके. इसी कड़ी में दिल्ली जामा मस्जिद के शाही इमाम ने भी कहा है कि ऐसा करके हम कोरोना वायरस को जड़ से खत्म कर सकते हैं. शाही इमाम ने लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग बनाएं रखने की भी अपील की. Also Read - Complete Lockdown In India! थम नहीं रहा कोरोना का कहर, क्या संपूर्ण लॉकडाउन है विकल्प? सरकार ने भी दिये संकेत- क्या कहते हैं आंकड़े

शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने कहा कि अगर हम सरकार के नियमों का पालन करेंगे तभी जड़ से COVID-19 को खत्म कर सकते हैं. रमजान का पवित्र महीना शुरू होने वाला है. ऐसे में घर में ही नमाज अदा करें. उन्होंने कहा कि इस समय सोशल डिस्टेंसिंग का भी खास ख्याल रखें. इन नियमों को पालन कर हम कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचा सकते हैं. Also Read - Video: हवा में उड़ते ही निकला एयर एंबुलेंस का पहिया, फिर ऐसे हुई लैंडिंग; सभी सुरक्षित

बता दें कि भारत में 24-25 अप्रैल से रमजान के महीने की शुरुआत होने वाली है. इस बाबत कई बड़े नेता व मस्जिदों के इमामों ने लोगों से कोरोना वायरस संबंधी नियमों का पालने करने की अपील की है. गौरतलब है कि मुसलमानों के लिए रमजान का त्योहार बेहद खास है. लेकिन देश में फैले महामारी के कारण इन त्योहारों को सावधानीपूर्वक मनाए जानें का आदेश भी दिया जा चुका है.