जयपुर: लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की जबरदस्त जीत के बाद, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि राम का काम करना है, राम का काम होकर ही रहेगा. आरएसएस चीफ भागवत ने यह बयान रविवार को उदयपुर दौरे के दौरान दिया. वह प्रताप गौरव केंद्र के ‘मंदिर प्राण प्रतिष्ठा’ कार्यक्रम के लिए गए हुए थे. उनके साथ वहां अध्यात्मिक गुरु मोरारी बापू भी मौजूद थे. बता दें कि शुक्रवार को उदयपुर एयरपोर्ट पर उतरने के तुरंत बाद भागवत ने मीडिया से कहा था, “आ गई है सरकार वापस.” Also Read - Rajasthan: माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का बड़ा फैसला, बिना परीक्षा के पास किए जाएंगे कक्षा 6 और 7 के छात्र

कार्यक्रम को सबसे पहले मोरारी बापू ने संबोधित किया. इस अवसर पर उन्होंने कहा, “सदियों से यह देश राम का नाम लेता आ रहा है. आज यह देश उन परिस्थितियों से गुजर रहा है कि हमें राम के काम के बारे में भी सोचना चाहिए. मैं युवाओं के हाथों में राम नाम लिखा देखकर खुश होता हूं.” Also Read - Corona Guidelines for Navratri and Ramadan 2021: यूपी, बिहार से लेकर महाराष्ट्र तक, जानिए इन 6 राज्यों में नवरात्र और रमजान को लेकर क्या हैं नियम?

उनके संबोधन के बाद भागवत ने कहा, “हमें मोरारी बापू द्वारा दिए गए संदेश को याद रखना चाहिए. राम के काम को किए जाने की जरूरत है और राम का काम होकर रहेगा. राम हमारे हृदय में बसते हैं. हमें सक्रिय होने की जरूरत है और हमारे लक्ष्यों को पूरा करने के लिए आगे बढ़ने की जरूरत है.”

भागवत शुक्रवार से ही उदयपुर के चार दिवसीय दौरे पर हैं, जहां वह आरएसएस द्वारा संचालित ‘संघ शिक्षा सेवा द्वितीय’ प्रशिक्षण शिविर में भाग लेने आए हुए हैं. शुक्रवार को उदयपुर एयरपोर्ट पर उतरने के तुरंत बाद भागवत ने मीडिया से कहा, “आ गई है सरकार वापस.”