पणजी: गोवा में ब्रिटिश महिला से बलात्कार मामले में पुलिस जनवरी के आखिर तक आरोपपत्र दायर करेगी. एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी. पुलिस ने बताया कि दक्षिण गोवा के कानकोना में बीते साल 21 दिसंबर को 48 वर्षीय महिला से 31 वर्षीय व्यक्ति ने कथित तौर पर बलात्कार किया था. महिला उस वक्त पालोलेम बीच की ओर जा रही थी.

जापान के नये फिश मार्केट में रिकॉर्ड 22 करोड़ में बिकी ये मछली, जानें क्या है खासियत…

पूछताछ जारी है
आरोपी की पहचान वाई रामचंद्रन के तौर पर हुई है. उसे बाद में मडगांव में एक होटल से गिरफ्तार किया गया और उसके खिलाफ बलात्कार, शारीरिक उत्पीड़न एवं लूट-पाट के आरोपों पर भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया. मडगांव कानकोन से 60 किलोमीटर की दूरी पर है. कानकोन थाना के निरीक्षक राजेंद्र प्रभु देसाई ने बताया कि कई गवाहों से पूछताछ की जा रही है और रामचंद्रन के खिलाफ ‘‘ठोस’’ मामला है. उन्होंने बताया, ‘‘इस महीने के आखिर तक आरोपपत्र दायर किया जायेगा क्योंकि कुछ साक्ष्य वैज्ञानिक परीक्षण के लिये भेजे गये हैं.’’ उन्होंने बताया कि कम से कम सात गवाहों ने परिस्थितिजन्य साक्ष्य दिये हैं.

घर में बार-बार रेप की शिकार हुई किशोरी, आपबीती सुन पुलिस के भी उड़े होश

बता दें कि गोवा के कानाकोना इलाके में 21 दिसम्बर 2018 एक ब्रिटिश महिला पर्यटक के साथ बलात्कार की घटना सामने आई थी. आरोपी जेल ब्रेक के एक मामले में पहले से ही फरार चल रहा था. इसी दौरान गोवा पुलिस ने पहले से वांछित चल रहे आरोपी रामचंद्रन वाई को मडगांव से पकड़ा था. रामचंद्रन तमिलनाडु के तंजावुर जिले का निवासी है. उत्तरी गोवा जिले के पेर्नम इलाके से 30 लाख रुपये की लूट मामले में उसकी गिरफ्तारी के लगभग एक महीने बाद से वह जेल ब्रेक कर फरार चल रहा था. पुलिस को पीड़िता ब्रिटिश महिला का एटीएम कार्ड भी उसके पास से मिला था पुलिस निरीक्षक राजेंद्र प्रभु देसाई ने बताया कि इस घटना के कुछ समय बाद ही रामचंद्रन को जब मडगांव से पेर्नम पुलिस ने गिरफ्तार किया पुलिस को थोड़ा भी अंदाजा नहीं था कि वह कानकोना बलात्कार मामले में शामिल हो सकता है. पुलिस के शक की सुई उसकी तरफ तब घूमी जब उसके पास से पीड़ित महिला का एटीएम कार्ड मिला. उसके बाद कड़ी जुड़ती गई. (इनपुट एजेंसी)

पेटा का दोहरा मानदंड: भारत के जल्लीकट्टू पर गरम, अमेरिका की ‘Bull Riding’ पर नरम