दिल्ली: दाती महाराज के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज होने के बाद किए जाने के बाद दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने आगे कदम बढ़ाया है. क्राइम ब्रांच ने आज रेप के मामले में दाती महाराज के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. ये चार्ज शीट साकेत कोर्ट में दाखिल की गई है. चार्जशीट दाखिल तो कर दी गई है लेकिन दाती महाराज को अब तक अरेस्ट नहीं किया गया है. चार्जशीट में तीन सौतेले भाइयों का नाम भी हैं.’

रेप के आरोपी दाती महाराज के आश्रम से 600 लड़कियां कहां गईं?

 

ऐसा बताया जा रहा है कि क्राइम ब्रांच को दाती को गिरफ्तार करने के पर्याप्त सबूत नहीं मिले है. क्राइम ब्रांच सूत्रों के मुताबिक पीड़िता ने पाली आश्रम में जिन तीन तारीखों पर उसके साथ रेप की एफआईआर दर्ज कराई थी, उसमें से एक तारीख को लड़की पाली में मौजूद नहीं थी बल्कि अजमेर में अपने कॉलेज में मौजूद थी, जिसके सबूत कॉलेज में पीड़िता की उपस्थिति से पता लगे है. वहीं, दिल्ली आश्रम में जिस तारीख को दाती पर पीड़िता ने रेप का आरोप लगाया था उस दिन शनि अमावस्या थी और दाती भस्म लगाकर पूजा हवन में शामिल था. पीड़िता ने जून महीने में दाती महाराज और उसके भाईयो के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज कराया था.

दाती महाराज पर रेप के आरोप में FIR, कई महिलाओं के यौन शोषण का दावा

बता दें कि पीड़ित लड़की ने दाती महाराज पर आरोप लगाए थे कि वह 2005 में दाती के संपर्क में आई थी. इसके बाद वो आश्रम में रहने लगी और पढ़ाई का खर्च भी महाराज उठाने लगा. दो साल पहले 9 जनवरी 2016 को चरण सेवा के नाम पर दिल्ली के फतेहपुर बेरी इलाके के शनि धाम आश्रम शनि अमावस्या को दाती महाराज ने उससे रेप किया. फिर उसी साल मार्च में लगातार तीन दिन तक राजस्थान के पाली के आश्रम में उससे रेप किया गया.