कैथल: हरियाणा में सहायक उप-निरीक्षक रैंक वाले एक पुलिस अधिकारी द्वारा 16 वर्षीय एक किशोरी और उसकी मां के साथ बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है. नाबालिग लड़की का आरोप है कि पिछले महीने उसके घर पर उसकी मां व उसके साथ हैवानियत हुई. पीड़िता की शिकायत के मुताबिक घटना उसके गांव में हुई इस दौरान गांव के ही कुछ लोग बाहर खड़े हो कर इस कृत्य के लिए उनका समर्थन कर रहे थे. Also Read - Haryana News: हरियाणा सरकार ने Black Fungus को अधिसूचित रोग किया घोषित, जानें क्या हैं लक्षण

Also Read - Haryana Lockdown Update: हरियाणा में एक सप्ताह के लिए बढ़ाया गया लॉकडाउन, जारी रहेंगी सख्त पाबंदियां: दिशानिर्देश जारी करेगी सरकार

ग्राम सरपंच व पूर्व सरपंच ने उकसाया Also Read - Covid-19: सेना ने पंजाब, हरियाणा के 3 कोविड अस्पतालों में लगाए ऑक्सीजन प्लांट, दिन-रात काम कर रहे जवान

पीड़िता की शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है जिनमें कुछ पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, पीड़िता ने वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि एएसआई रैंक के एक पुलिस अधिकारी ने पिछले महीने उसके और उसकी मां के साथ उनके घर पर बलात्कार किया और गांव के सरपंच, पूर्व सरपंच सहित अन्य आरोपी घर के बाहर खड़े होकर उनका समर्थन कर रहे थे.

क्राइम की राजधानी: बेखौफ बदमाश, दो सगे भाइयों को लाठी-डंडे से पीटने के बाद गोली से उड़ाया

पिता पर भी लगाया था रेप का आरोप

पीड़िता की शिकायत के आधार पर बुधवार को 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया. जिन पुलिसकर्मियों पर मामला दर्ज किया गया है उनमें एक हेड कांस्टेबल और एक कांस्टेबल शामिल है. कैथल की पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने यहां गुरुवार को बताया कि बलात्कार के अलावा पाक्सो अधिनियम और भादंवि की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

सऊदी अरब से चांदबाबू ने बहराइच किया फोन, बेगम को दिया ‘तीन तलाक’

उन्होंने बताया कि आगे की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है, जिसका नेतृत्व डीएसपी रैंक के अधिकारी कर रहे हैं. पुलिस ने बताया कि करीब तीन महीने पहले नाबालिग ने अपने पिता के खिलाफ छेड़छाड़ के आरोप लगाए थे लेकिन बाद में उसने आरोप वापस ले लिए थे. (इनपुट भाषा)