गाजियाबाद. बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी की हत्या के आरोप में जेल में बंद बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत मामला दर्ज किया गया है. शर्मा पर गाजियाबाद के बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी की हत्या का आरोप है और इसी आरोप में शर्मा बीते सितंबर से जेल में बंद हैं. जिला प्रशासन ने जिला पुलिस प्रमुख की रिपोर्ट के आधार पर मंगलवार को शर्मा पर रासुका लगाया. ऐसे में अब अमरपाल शर्मा को जमानत मिलना मुश्किल हो गया है. रासुका लगने के बाद एक साल तक अमरपाल को जमानत नहीं मिलेगी.Also Read - UP में माफियाओं की 1,800 करोड़ रुपए की अवैध संपत्ति ध्वस्त की या जब्‍त, 43,294 आरोपी अरेस्‍ट, 630 पर रासुका

पूरा मामला 2 सितंबर 2017 को खोड़ा की इंदिरा विहार कॉलोनी का है जब बाइक सवार दो बदमाशों ने बीजेपी नेता गजेंद्र भाटी और बीजेपी के खोड़ा-मकनपुर मंडल अध्यक्ष बलवीर चौहान पर गोलियां बरसाईं थीं। अस्पताल में उपचार के दौरान गजेंद्र की मौत हो गई थी। गजेंद्र भाटी के भाई योगेश की शिकायत पर पुलिस ने पूर्व विधायक अमरपाल शर्मा समेत दो अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था. शर्मा साहिबाबाद से बीएसपी के पूर्व विधायक हैं Also Read - अभी जेल में ही रहेंगे डॉक्टर कफील, योगी सरकार ने तीन महीने के लिए बढ़ाई रासुका की अवधि

Also Read - मध्य प्रदेश में मिलावटी दूध बेचने वालों की नहीं खैर, एक कारोबारी को रासुका लगाकर भेजा गया जेल