नई दिल्ली: कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर एक सवाल के जवाब में अजीबोगरीब तर्क देते हुए कहा कि जब फिल्में 1 दिन में 120 करोड़ कमा रहीं तो मंदी कहां है? केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को भारत के मौजूदा आर्थिक मंदी के बारे में टिप्पणी करते हुए ये बात कही. प्रसाद ने जारी ‘आर्थिक संकट’ को खारिज करने के लिए बॉलीवुड की तीन हिट फिल्मों की कमाई का हवाला दिया. उन्होंने कहा, “भारत में 3 अक्टूबर को बॉलीवुड की तीन फिल्मों ने 120 करोड़ रुपये कमाए. इससे साबित होता है कि देश की अर्थव्यवस्था बहुत ही अच्छी है.”

उन्होंने कहा, “मैं फिल्मों का शौकीन हूं, मैं पूर्व वाजपेयी सरकार में सूचना और प्रसारण मंत्री था. फिल्में बहुत बड़ा कारोबार करती रही हैं. 2 अक्टूबर को 3 फिल्मों ने सिल्वर स्क्रीन पर धमाल मचाया और मुझे फिल्म समीक्षक कोमल नाहटा ने बताया कि इन सभी ने राष्ट्रीय अवकाश [अक्टूबर 2] पर सामूहिक रूप से 120 करोड़ रुपये कमाए. फिल्में 120 करोड़ रुपये ऐसे देश में कमाती हैं जिसकी अर्थव्यवस्था अच्छी होती है.”


मुंबई में पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि देश में मोबाइल, मेट्रो और सड़कें बन रही हैं, जिससे लोगों को रोजगार मिल रहा है. उन्होंने कहा, “हमारी अर्थव्यवस्था का आधारभूत ढांचा मजबूत है और महंगाई दर नियंत्रण में हैं. उन्होंने यह भी दावा किया कि एफडीआई सबसे ऊंचे स्तर पर है.”

इससे पहले देश में ऑटोमोबाइल सेक्टर में ‘मंदी’ को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को भी अपने बयान को लेकर आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. उन्होंने कहा, “ऑटोमोबाइल सेक्टर, विशेष रूप से, कई चीजों से प्रभावित हुआ है. इनमें बीएस6 मूवमेंट, जून तक जारी पंजीकरण शुल्क मुद्दा और मिलेनियल्स की मानसिकता शामिल हैं, जो अब ऑटोमोबाइल खरीदने के लिए ईएमआई देना पसंद नहीं कर रहे हैं, लेकिन ओला या उबर का उपयोग करना पसंद करते हैं या मेट्रो लेना पसंद करते हैं.”