नई दिल्ली. कांग्रेस सांसद शशि थरूर द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शिवलिंग पर बैठ बिच्छू जैसे उदाहरण देते हुए बयान देने पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि राहुल गांधी खुद को शिवभक्त होने का दावा करते हैं, कृपया वह थरूर के शिव पर दिए हुए बयान पर माफी मांगेंगे. बता दें कि कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना शिवलिंग पर बैठे बिच्छू से की. हालांकि इसके लिए उन्होंने एक अज्ञात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के व्यक्ति का हवाला दिया.

रविशंकर प्रसाद ने कहा, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी खुद को शिवभक्त बताते हैं. लेकिन उनके एक छोटे से नेता हमेशा शिव की शुचिता पर सवाल उठाते हैं. अब उन्होंने महादेव का नाम चप्पल के हमले का हवाला देते हुए लिया है.

बता दें कि एएनआई द्वारा जारी एक वीडियो में बेंगलुरू साहित्य समारोह में दर्शकों को संबोधित करते हुए थरूर ने बताया कि संघ के सदस्य ने एक पत्रकार से नाम न जाहिर करने की शर्त पर कहा था- मोदी आरएसएस के लिए शिवलिंग पर बैठे उस बिच्छू की तरह हैं, जिसे न हाथ से हटाया जा सकता है और न ही चप्पल से मारा जा सकता है. अगर हाथ से हटाया तो बुरी तरह से काट लेगा.

किताब के बारे में बात कर रहे थे
इस कार्यक्रम में थरूर अपनी किताब ‘द पेराडॉक्सियल प्राइम मिनिस्टर’ के बारे में बात कर रहे थे. उन्होंने कहा, मोदी का मौजूदा व्यक्तित्व उनके समकक्षों के लिए निराशा का विषय बन गया है. मोदित्व, मोदी प्लस हिंदुत्व के चलते वे संघ से भी ऊपर हो चुके हैं.

मोदी सरकार की आलोचना की
मोदी सरकार की आलोचना करते हुए थरूर ने कहा, मौजूदा सरकार में मंत्रालय और अफसरों को भी अपने फैसले पर पीएमओ से सहमति का इंतजार करना पड़ा है. यह इसी का नतीजा है कि गृहमंत्री को भी नहीं पता होता कि सीबीआई प्रमुख हटाए जा रहे हैं. विदेश मंत्री को विदेश नीति से जुड़े बदलावों के बारे में जानकारी नहीं होती, रक्षा मंत्री को अंतिम क्षण तक राफेल डील में हुए बदलाव नहीं पता चलते. थरूर अक्सर अपने बयानों की वजह से मीडिया में बने रहते हैं.