नई दिल्ली: केंद्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने मंगलवार को कहा कि कॉल ड्रॉप की समस्या समाप्त करने के लिए दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनियों को अपने नेटवर्क के रेडियो फ्रीक्वेंसी का अधिकतम दोहन करना चाहिए और नियमित अंतराल पर जांच को अंजाम देना चाहिए। उन्होंने कहा, “हमें कॉल ड्रॉप के मुद्दे को गंभीरता से लेना होगा। यह भी पढ़े:विधायक कार्यालयों का खर्च उठाएगी आप सरकारAlso Read - Modi Cabinet Reshuffle: मंत्रिपरिषद से इस्तीफा देने वालों में से कुछ नेताओं को मिल सकती है संगठन में बड़ी जिम्मेदारी!

Also Read - नए IT नियमों के तहत Google और Facebook ने पेश की पहली रिपोर्ट, रवि शंकर प्रसाद बोले- पारदर्शिता की दिशा में बड़ा कदम

एक मंत्री के रूप में मैं देश के ग्राहकों के प्रति जवाबदेह हूं। कंपनियों को अपने नेटवर्क के रेडियो फ्रीक्वेंसी का अधिकतम दोहन करने और उसके बाद नियमित अंतराल पर इसकी जांच करने के लिए कहा जाएगा।” प्रसाद ने साथ ही कहा कि सभी महानगरों और राज्यों की राजधानियों में दूरसंचार विभाग टीईआरएम प्रकोष्ठ के माध्यम से स्थिति की गंभीरता का आंकलन करने के लिए सेवाओं की गुणवत्ता की जांच कराएगा। Also Read - क्यों लॉक किया रविशंकर प्रसाद और शशि थरूर का अकाउंट? संसदीय समिति ने Twitter से दो दिनों में मांगा जवाब