नई दिल्ली: बीजेपी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना एडोल्फ हिटलर से करने के लिए सोमवार को कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की आलोचना की और कहा कि दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी हिटलर की भाषा बोला करती थीं. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में कहा, “खड़गे एक कदम पीछे चले गए. उन्होंने मोदी को हिटलर कहा. मैं चकित हूं. आपातकाल के दौरान इंदिरा गांधी हिटलर की भाषा का इस्तेमाल करती थीं.” Also Read - Bihar: नवादा से एनडीए पर डबल अटैक, राहुल गांधी ने पीएम तो तेजस्वी ने सीएम को ललकारा, VIDEO

खड़गे पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो एक कदम भी एक ‘परिवार’ की इजाजत के बिना नहीं चलता, वह उस पार्टी पर आरोप लगा रहा है, जो लोकतांत्रिक मूल्यों का अनुसरण करता है. प्रसाद ने कहा, “यह उनकी निराशा है. मैं इसे समझ सकता हूं. जब भी उन्हें हार का संकेत मिलता है, वे निराश हो जाते हैं.” Also Read - PM Modi Rally in Bihar Today Live Update: बिहार को पिछड़ा राज्य बनाने वाले फिर सत्ता में आने की कर रहे कोशिश- पीएम मोदी

मुंबई कांग्रेस द्वारा बांद्रा में आयोजित ‘संविधान बचाओ परिषद’ में बोलते हुए खड़गे ने रविवार को कहा था कि मोदी भारत के साथ वही करना चाहते हैं, जो जर्मनी के लिए एडोल्फ हिटलर ने किया था. कांग्रेस नेता ने कहा था, “भाजपा पिछले चार वर्षों से सही दिशा में अपने कदम नहीं बढ़ा सकी है. उन्हें कांग्रेस पर ऊंगली उठाने और पिछले 70 वर्षो में किया हुआ, इसका हिसाब मांगने का कोई अधिकार नहीं है.” Also Read - Bihar Assembly Election 2020: भाजपा के मेनिफेस्टो पर मचा बवाल, तो BJP ने किया पलटवार

खड़गे ने कहा, “बीजेपी देश में तानाशाही लाने की कोशिश कर रही है. मोदी भारत के साथ वही करना चाहते हैं, जो एडोल्फ हिटलर ने जर्मनी के साथ किया. संविधान खतरे में हैं और हमें बीजेपी की ओर से इसे बर्बाद करने के प्रयास से लड़ने की जरूरत है.”