नई दिल्ली. राफेल मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधने पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा ने गुरुवार को सवाल किया कि कांग्रेस अध्यक्ष को वायु सेना और कैग पर भरोसा नहीं है. तो क्या उन्हें पाकिस्तान के सर्टिफिकेट की जरूरत है?

बीजेपी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा कि वह इस मामले (राफेल) में राहुल गांधी के झूठ की निंदा करते हैं. उन्हें (राहुल) भारतीय वायु सेना पर भरोसा नहीं है. कैग (नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक) और सुप्रीम कोर्ट पर भरोसा नहीं है. इससे पूर्व, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे से जुड़े दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी होने को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि यह स्पष्ट रूप से भ्रष्टाचार का मामला है और इसके लिए प्रधानमंत्री के खिलाफ जांच एवं कार्रवाई होनी चाहिए.

राहुल ने लगाए ये आरोप
कांग्रेस नेता ने यह सवाल भी किया कि अगर प्रधानमंत्री मोदी पाक साफ हैं तो जांच से क्यों भाग रहे हैं? गांधी ने संवाददाताओं से कहा, एक नई लाइन सामने आई है-गायब हो गया. दो करोड़ रोजगार गायब हो गया. किसानों के बीमा का पैसा गायब हो गया. 15 लाख रुपया गायब हो गया. अब राफेल की फाइलें गायब हो गईं.

राहुल ने किया दावा
उन्होंने दावा किया, कोशिश यह कि जा रही है कि किसी भी तरह से नरेंद्र मोदी का बचाव करना है. सरकार का एक ही काम है कि चौकीदार का बचाव करना है. इसी के जवाब में रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राहुल गांधी को सुप्रीम कोर्ट पर विश्वास नहीं है जिसके फैसले में कहा गया है कि इसकी (राफेल) खरीद प्रक्रिया में किसी तरह का वाणिज्यिक अनुचित व्यवहार नहीं हुआ है. उन्होंने सवाल किया, क्या वह पाकिस्तान पर भरोसा करना चाहते हैं?

पाकिस्तान पर अधिक विश्वास
प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष भारत के सशस्त्र बलों और नेताओं की अपेक्षा पाकिस्तान पर अधिक विश्वास करते हैं. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि क्या राहुल गांधी को राफेल के बारे में पाकिस्तान के प्रमाणपत्र की जरूरत है लेकिन इसमें हम उनकी कोई मदद नहीं कर सकते.