RBI Governor Shaktikant Das Speech: देश में कोरोना महामारी व लॉकडाउन के बीच रिजर्व बैंक प्रमुख शक्तिकांत दास ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कई अहम मुद्दों पर बात की. इस बाबत उन्होंने रेप रेट और रिवर्स रेपो रेट पर अहम घोषणाए की. दास ने कहा कि रेपो रेट में 0.4 प्रतिशत की कटौती की गई है. यह पहले 4.4 था.Also Read - Omicron: त्वचा पर 21 घंटे तक जिंदा रहता है कोरोना का ओमीक्रोन वेरिएंट, हैंड हाइजीन सबसे जरूरी

गौरतलब है कि रेपो रेट में कटौती होने पर लोन्स पर EMI कम हो सकती है. पर ये सब काफी हद तक बैंकों पर निर्भर करता है. Also Read - IMF ने 2022 में भारत की वृद्धि दर का अनुमान 9 प्रतिशत किया, चीन 4.8%, यूएस 4% फीसदी पर रहेंगे

हालांकि रिवर्स रेपो रेट में किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है. रेपो रेट में कटौती के कारण आम लोगों व बैंकों को भी इसका लाभ मिलेगा साथ ही बैंकों के ब्याज दरों में भी कटौती की गई है. Also Read - 'कोरोना के खिलाफ लड़ाई अब भी जारी, हमें सतर्क रहना चाहिए'- गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति के संबोधन की खास बातें

बता दें कि लॉकडाउन के दौरान यह दूसरी बार है जब रेपो रेट में कटौती की गई है. इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने रेपो रेट में 0.75 प्रतिशत कटौती का ऐलान किया था.

हालांकि इस बार रेपो रेट से भी ज्यादा अहम बैंकों के ब्याज दरों में कटौती को माना जा रहा है. इस आम लोगों व लोन लेने वालों को फायदा मिलेगा. हालांकि इस दौरान उन्होंने कई अहम मुद्दों पर बात की. इस दौरान उन्होंने यह भी बताया कि जीडीपी फिलहाल निगेटिव ही रहेगी.