बेंगलुरू: मध्य प्रदेश कांग्रेस के 19 बागी विधायकों और सांसदों ने शहर में अपने प्रवास के दौरान पुलिस सुरक्षा की मांग की है. पार्टी के एक सूत्र ने मंगलवार को यह बात बताई. विधायकों ने कर्नाटक के पुलिस महानिदेशक और पुलिस महानिरीक्षक को लिखे एक पत्र में कहा है, “हम मध्य प्रदेश राज्य के विधायक और सांसद हैं. हम कुछ महत्वपूर्ण कार्य से कर्नाटक राज्य आए हुए हैं, जिसके लिए हमें बेंगलुरू प्रवास के दौरान सुरक्षा के लिए स्थानीय पुलिस का संरक्षण चाहिए.” Also Read - भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस छोड़ने वाले MP के 21 पूर्व विधायक, विशेष विमान से भोपाल पहुंचे


पुलिस के एक अधिकारी ने पुष्टि की है कि सोमवार की तिथि वाला पत्र प्राप्त हुआ है. पत्र पर विधायकों के हस्ताक्षर हिंदी और अंग्रेजी में हैं. बागी विधायक सोमवार को दो बैच में चार्टर्ड विमान से बेंगलुरू पहुंचे और कथित तौर पर वे शहर के बाहर स्थित एक रिसॉर्ट में ठहरे हुए हैं. बता दें कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस पार्टी को एक बड़ा झटका तब लगा जब पार्टी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. मंगलवार सुबह से ही इस बात के कयास लगाए जा रहे थे सिंधिया आज एक बड़ा फैसला ले सकते हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपना त्यागपत्र कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को सौपा दिया है.

इस्तीफा देने से पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने गृह मंत्री अमित शाह के साथ जाकर पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी और इस मुलाकात के बाद इस बात की गुंजाइश बढ़ गई थी की सिंधिया आज भाजपा में शामिल होंगे. हालांकि दूसरी तरफ कांग्रेस का आलाकमान लगातार सिंधिया को मनाने की कोशिश कर रहा था. मुख्यमंत्री कमलनाथ के अनबन की खबरों के बीच आज सिंधिया ने पार्टी से इस्तीफा देकर पूरी कांग्रेस पार्टी को एक बड़ा झटका दिया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खुद ट्वीट करके अपने इस्तीफे की जानकारी दी. सिंधिया ने कहा कि मैं पिछले 18 से पार्टी से जुड़ा हूं लेकिन अब आगे बढ़ने का समय है. उधर कांग्रेस पार्टी ने इस्तीफे के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी विरोधी कार्यों के लिए निष्कासित कर दिया है.