Red Fort violence: दिल्ली पुलिस ने 26 जनवरी को लाल किले पर हुई हिंसा के सिलसिले में शुक्रवार को नौ किसान नेताओं को जांच में शामिल होने का नोटिस जारी किया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी.Also Read - Netaji Subhash Chandra Bose की प्रतिमा के होलोग्राम का PM Modi आज करेंगे अनावरण, जानें क्या होगा खास

अधिकारियों के मुताबिक दिल्ली पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) ने किसान नेता राकेश टिकैत, पवन कुमार, राज किशोर सिंह , तजेंदर सिंह विर्क, जितेन्दर सिंह, त्रिलोचन सिंह, गुरमुख सिंह, हरप्रीत सिंह और जगतार सिंह बाजवा को जांच में शामिल होने को कहा है. Also Read - मुस्लिम महिलाओं के प्रति अश्लील टिप्पणी का केस: Club House पर बिसमिल्लाह नाम से प्रोफाइल बनाए था आरोपी, पकड़ा गया

ये नोटिस उन्हें व्हाट्सऐप के जरिये भेजे गये हैं. पुलिस की एक टीम ने उन तंबुओं का दौरा किया जहां वे ठहरे हुए हैं तथा वहां नोटिस चिपका दिया. एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने उनका इंतजार किया और उनके समन्वयकों से संपर्क किया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला.’’ Also Read - Bulli Bai App Case: बुल्ली बाई एप के आरोपी सु्ल्ली डील एप में भी थे शामिल, मुंबई पुलिस ने कोर्ट को दी ये जानकारी

पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर किसान संगठनों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के सिलसिले में 33 प्राथमिकियां दर्ज की हैं. हिंसा की घटनाओं में 394 पुलिस कर्मी घायल हो गये थे, जबकि एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई थी. उल्लेखनीय है कि घटना को लेकर 44 लोगों के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है.