Red Fort Violence: गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजधानी दिल्ली में ट्रैक्टर रैली के नाम पर हुड़दंगियों ने खूब बवाल काटा और जमकर हिंसा की. इस दौरान उपद्रवियों ने पुलिस पर भी हमला किया. इसके बाद से ही लगातार पुलिस लखघबीर सिंह उर्फ लक्खा सिधाना की तलाश कर रही है. लेकिन लक्खा अबतक फरार चल रहा है. इस बीच उसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया गया है. इस वीडयो में लक्खा ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि कि किसानों के खिलाफ झूठे केस दर्ज कर उन्हें डराने की कोशिश की जा रही है.Also Read - पंजाब के किसान नेताओं ने MSP पर 30 नवंबर तक जवाब मांगा, एक दिसंबर को SKM की आपात बैठक

इस वीडियो में लक्खा ने अप्रत्यक्ष तरीके से भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर निशाना साधते हुए कहा है कि किसान आंदोलन पर अब लोगों का कब्जा हो चुका है. ये लोग पंजाबी भी नहीं हैं. किसान आंदोलन 7 महीने पुराना है जो अपने चरम पर अब पहुंच चुका है. Also Read - कृषि मंत्री की किसान संगठनों से अपील, 'विरोध खत्म कर बातचीत करें, APMC को और मजबूत किया जाएगा'

सिधाना ने इस वीडियो में कहा कि हम बठिंडा के मेहराज में 23 फरवरी के दिन एक किसान सभा का आयोजन करने वाले हैं. सिधाना ने लोगों से अपील की है कि वे इस जनसभा में बड़ी संख्या में पहुंचे. बता दें कि इस वीडियो को देखकर ऐसा लग रहा है जैसे रात के वक्त किसी टेंट में शूट किया गया है. यहां कई लोग जमीन पर सोए दिखते हैं जिनके बीच लक्खा वीडियो बना रहा है और केंद्र सरकार पर निशाना साधता है. Also Read - Farmer's Protest Live: आंदोलन 7 माह का हुआ, किसानों की आज ट्रैक्‍टर रैली को लेकर कड़ी सुरक्षा, हर ताजा अपडेट पढ़े

सिधाना इस वीडियो में कहा कि 23 फरवरी को लाखों की संख्या में लोग बठिंडा जिले के मेहराज में आने को कहा है. उसने कहा कि लोग बड़ी संख्या में वहां पहुंचे ताकि लोगों को पता लगे ि हम किसानों के साथ हैं.