नई दिल्लीः जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि छात्रावास शुल्क से संबंधित एचआरडी मंत्रालय की तरफ से लिए गए पूर्व के सभी फैसलों को पूरी तरह से लागू किया गया है. मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय और विश्वविद्यालय प्रशासन की पांच सदस्यीय टीम के बीच बैठक के बाद उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन जरूरत पड़ने पर एक बार फिर सेमेस्टर पंजीकरण प्रक्रिया की अंतिम तिथि को आगे बढ़ा सकता है.

इस टीम में कुमार भी शामिल थे. उन्होंने कहा, “छात्रावास शुल्क से संबंधित एचआरडी मंत्रालय में पूर्व में लिए गए सभी फैसलों को पूरी तरह से लागू किया गया है.” यह आपात बैठक परिसर में जारी स्थिति पर चर्चा करने और छात्रों एवं प्रशासन के बीच मौजूदा गतिरोध को सुलझाने के लिए बुलाई गई थी. जेएनयू के रजिस्ट्रार और तीन रेक्टर भी इस टीम का हिस्सा थे. इस बीच वीसी जगदीश कुमार ने यह भी कहा कि अब यूनिवर्सिटी मे हालात सामान्य हैं और एक बार फिर से पहले की तरह एकेडमिक एक्टीविटीज शूरू होंगी.

आपको बता दें कि जवाहर लाल यूनिवर्सिटी में पिछले कई महीनों से कई सारे मुद्दों को लेकर बवाल मचा हुआ है. यूनिवर्सिटी में पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हुई है. पहले नागरिकता बिल को लेकर बवाल हुआ तो हाल ही में कुछ लोगों के यूनिवर्सिटी के अंदर घुसकर छात्रों और टीचर्स की पिटाई के मामले ने पूरा माहौल बिगाड़ रखा है. इस मामले को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं.