नई दिल्लीः इस साल गणतंत्र दिवस समारोह में दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा मुख्य अतिथि होंगे. पिछले माह G-20 सम्मेलन के वक्त पीएम नरेंद्र मोदी ने रामफोसा को आमंत्रित किया था. उसी वक्त दक्षिण अफ्रीकी राष्ट्रपति ने आमंत्रण स्वीकार कर लिया था. वह दिल्ली में राजपथ पर आयोजित मुख्य समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ शामिल होंगे. इस साल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंति भी है. पूरा राष्ट्र महात्मा गांधी की 150वीं जयंति मना रहा है. गौरतलब है कि महात्मा गांधी का दक्षिण अफ्रीका के साथ करीबी संबंध रहा है.

पीएम मोदी और रामफोसा की मुलाकात के बाद विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि नया साल यादगार रहेगा. 2019 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंति है तो दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के ‘गांधी’ नेल्सन मंडेला की 100वीं जयंति भी है. मंडेला का 2013 में 95 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था. कुमार ने आगे कहा था कि राष्ट्रपति रामफोसा ने गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अथिति बनने का न्योता स्वीकार कर लिया है.

रामफोसा के 25 जनवरी को भारत आने की संभावना है. उनके भारतीय कारोबारियों के साथ भी एक बैठक करने की संभावना है. दक्षिण अफ्रीका में करीब 15 लाख भारतीय मूल के लोग रहते हैं. इनकी संख्या वहां की जनसंख्या का तीन फीसदी है. इस दौरान दोनों देशों के बीच कई और समझौते होने की संभावना है.