रेल मंत्री का बड़ा बयान, बोले- रेल टिकटों पर रियायत या छूट बहाल करना फिलहाल व्यवहार्य नहीं

उन्होंने बताया कि रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट बहाल करने के लिए कई अभ्यावेदन मिले हैं.

Advertisement

rail tickets news: सरकार ने संसद को सूचित किया है कि कोविड महामारी शुरू होने के बाद रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट रोक दी गई थी और फिलहाल उसे बहाल कर पाना व्यवहार्य नहीं है. रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने एक प्रश्न के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट बहाल करने के लिए कई अभ्यावेदन मिले हैं.

Advertising
Advertising

उन्होंने बताया कोविड महामारी और कोविड प्रोटोकॉल को देखते हुए 20 मार्च 2020 से दिव्यांगजन की चार श्रेणियों और मरीजों तथा विद्यार्थियों की 11 श्रेणियों को छोड़ कर सभी श्रेणी के यात्रियों के लिए रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट को वापस ले लिया गया था.’’

वैष्णव ने बताया विभिन्न वर्गों से रेल टिकटों में दी जाने वाली रियायत या छूट को बहाल करने के लिए अनुरोध, अभ्यावेदन और सुझाव मिले . इस मामले पर गौर किया गया लेकिन रियायत या छूट बहाल करना फिलहाल व्यवहार्य नहीं पाया गया.’’ उल्लेखनीय है कि कोविड काल से पहले रेलवे रेल टिकटों में 54 श्रेणियों में रियायत या छूट देती थी.

यह भी पढ़ें

अन्य खबरें

(इनपुट भाषा)

Advertisement

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें मनोरंजन की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date:December 3, 2021 5:48 PM IST

Updated Date:December 3, 2021 5:48 PM IST

Topics