नई दिल्ली: हरियाणा के रेवाड़ी सामूहिक बलात्कार कांड की पीड़िता को अस्पताल से छुट्टी मिलने के साथ ही उसे पुलिस द्वारा घटनास्थल पर ले जाने को लेकर कांग्रेस ने राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार पर निशाना साधा और कहा कि ऐसी ‘संवेदनहीनता’ के लिए इस सरकार को इस्तीफा दे देना चाहिए. खबरों के मुताबिक, पीड़ित लड़की को गुरुवार को अस्पताल से छुट्टी मिली थी और इसके तुरंत बाद पुलिस निशानदेही के मकसद से उसे घटनास्थल पर ले गई, जिसके बाद लड़की की तबीयत फिर बिगड़ गई.

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, ‘डूब मरो खट्टर सरकार, इस्तीफ़ा देकर हो जाओ बाहर. रेवाड़ी गैंगरैप पीड़ित को अस्पताल से छ्ट्टी मिलते ही पुलिस द्वारा वापस घटनास्थल पर ले जाना आपकी संवेदनहीनता का नवीनतम उदाहरण है.” उन्होंने कहा, ‘इसके चलते पीड़ित बेटी फिर से वापस अस्पताल में भर्ती करानी पड़ी. बहू बेटियां आपको कभी माफ नहीं करेंगी’.

12 सितंबर को 19 साल की बोर्ड परीक्षा टॉपर छात्रा के साथ उसके गांव के ही तीन युवकों ने गैंग रेप किया था. इसमें एक आर्मी का जवान भी था. पीड़ित कॉलेज में सेकेंड ईयर की छात्रा है. उसने दो साल पहले सीबीएसई बोर्ड परीक्षा में टॉप किया था और उसे राष्ट्रपति से सम्मान मिला था. आरोपियों ने पीड़िता को रेवाड़ी कस्बे में कोचिंग जाने के दौरान अपने वाहन में 12 सितंबर को को अगवा कर लिया था. युवकों ने उसे पीने के लिए पानी दिया, जिसमें नशीला पदार्थ मिला हुआ था. तीनों ने उसके साथ कनीना गांव में दुष्कर्म किया और बाद में गांव के निकट बस स्टॉप के पास फेंक दिया. रेवाड़ी में महिला पुलिस थाने ने शुरुआत में अधिकार क्षेत्र का हवाला देते हुए शिकायत लिखने से इनकार कर दिया था.
पुलिस ने बाद में ‘जीरो एफआईआर’ दर्ज किया था.