कर्नाटक में ट्रैफिक नियमों को लेकर सख्ती की गई है. राज्य में बिना हेलमेट के बाइक चलाते हुए पाए जाने पर आपका ड्राइविंस लाइसेंस (Driving Licence) तीन महीने तक सस्पेंड हो सकता है. सरकार की तरफ से यह सख्ती बिना हेलमेट (Without Helmet) बाइक चलाने वाले लोगों की बढ़ती संख्या को देखते हुए की गई है. Also Read - Model Town Hit and Run: रात में चुपके से अंकल की होंडा सिटी लेकर निकला नाबालिग, चार को रौंदकर हुआ फरार, गिरफ्तार

मोटर वाहन (संशोधन) अधिनियम 2019 के अनुसार, बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन की सवारी करने पर 1,000 रुपये का जुर्माना और लाइसेंस का तीन महीने का निलंबन लगता है. हालांकि, भारी विरोध के बाद राज्य सरकार ने जुर्माना राशि को घटाकर 500 रुपये कर दिया था, जबकि तीन महीने के निलंबन नियम को लागू नहीं किया गया था. Also Read - Always wear a helmet: Kamal Haasan

परिवहन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की सड़क सुरक्षा समिति ने 14 अक्टूबर को एक वीडियो कॉन्फ्रेंस आयोजित की और उल्लंघनकर्ताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की सिफारिश की. इसके बाद इस नियम को राज्यभर में तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया.

परिवहन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि, राज्य भर में तत्काल प्रभाव से नियम लागू किया गया है. नये नियम के अनुसार बाइक चलाने वाले और पीछे बैठने वालों को हेलमेट पहनना जरूरी होगा. बेंगलुरु ट्रैफिक पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि बिना हेलमेट के सवारी करना शहर में यातायात उल्लंघन के का सबसे अधिक मामला था. इसके साथ-साथ लॉकडाउन प्रतिबंधों में ढील के बाद ऐसे मामले काफी बढ़ गए थे.

13 से 19 सितंबर के बीच ट्रैफिक पुलिस ने यातायात उल्लंघन के 43,141 मामले दर्ज किए और 2.14 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला. इसके अलगे सप्ताह 55,717 मामले दर्ज किए गए और 2.35 करोड़ रुपये का जुर्माना वसूला गया. 13 सितंबर से 19 के दौरान 26,590 मामले बिना हेलमेट से संबंधित थे, जबकि अगले सप्ताह में यह आंकड़ा 29,925 था.