पटना: बिहार में चल रही सियासी सरगर्मी के बीच राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि एनडीए में सब ठीक है और वह एनडीए में बने रहेंगे. कुशवाहा ने आरजेडी के नेतृत्व वाले महागठबंधन में शामिल होने के तेजस्वी यादव के न्योते को ठुकराते हुए कहा कि, ”आरजेडी अपना आधार खो चुकी है, अपना आधार वापस पाने के लिए वो लोग इस तरह के बयान दे रहे हैं लेकिन इसका मेरे से कोई संबंध नहीं है, देश की भलाई के लिए ये जरूरी है कि मोदी जी प्रधानमंत्री बने रहें. मोदी जी ही अगली बार भी पीएम बनेंगे.” Also Read - बिहार से राहत की बड़ी खबर: 28 जिले कोरोना से दूर, पटना में संदिग्ध मरीजों की संख्या में कमी!

तेजस्वी ने दिया था ऑफर
इससे पहले रविवार को बिहार में रालोसपा की ओर से आयोजित इफ्तार पार्टी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी और लोजपा से कोई भी नेता शामिल नहीं हुआ. इस घटना के बाद राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने रालोसपा प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को राजग छोड़कर आरजेडी के नेतृत्व वाले गठबंधन में शामिल होने का ऑफर दिया था, तेजस्वी ने कहा था कि राजग में कुशवाहा को गत चार वर्षों से नजरंदाज किया जा रहा है.

इफ्तार से बड़े नेता गायब
रालोसपा की इफ्तार पार्टी में सीएम, डिप्टी सीएम और लोजपा के नेताओं के शामिल नहीं होने पर कयास लगने शुरू हो गए हैं. रालोसपा प्रवक्ता अभयानंद सुमन ने कहा है कि इफ्तार पार्टी का निमंत्रण बिहार में राजग के सभी घटक दलों जदयू , भाजपा और लोजपा को उनके कार्यालयों में भेजा गया था. बिहार प्रदेश भाजपा प्रमुख नित्यानंद राय और भाजपा नेता देवेश कुमार इफ्तार कार्यक्रम में पहुंचे लेकिन जदयू और लोजपा से कोई भी नहीं आया.