पटना. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में सीट बंटवारे को लेकर अब नाराजगी खुलकर सामने आने लगी है. राजग में शामिल जनता दल-युनाइटेड (जद-यू) और भाजपा के नेता भले ही जल्द सीट बंटवारे की बात कर रहे हों लेकिन राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) ने शनिवार को भाजपा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. Also Read - कांग्रेस ने सामूहिक पलायन पर सरकार से पूछे सवाल, कहा- गरीबों की जिंदगी मायने रखती है या नहीं

केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री नागमणि ने यहां शनिवार को कहा कि अगले लोकसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर रालोसपा को चिढ़ाया जा रहा है. उन्होंने आरोप लगाया कि उन्हें राजग को छोड़कर महागठबंधन में जाने के लिए मजबूर किया जा रहा है. Also Read - केजरीवाल ने लोगों को गीता पाठ करने की दी सलाह, कहा- गीता के 18 अध्याय की तरह लॉकडाउन के बचे हैं 18 दिन 

नीतीश पर हमला
उन्होंने कहा कि भाजपा का यह दुर्भाग्य है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास कोई वोटबैंक नहीं है. लेकिन उसे आकाश में घुमाया जा रहा है और रालोसपा को चिढ़ाया जा रहा है. बता दें कि अगले लोकसभा चुनाव के लिए राजग में बिहार की 40 सीटों के बंटवारे के लिए भाजपा, लोकजनशक्ति पार्टी और जद (यू) में बातचीत चल रही है, लेकिन अब तक इसमें रालोसपा को इस बातचीत में शामिल नहीं किया गया है. Also Read - भाजपा अध्यक्ष ने कहा- लॉकडाउन में पैदल घर को निकले लोगों की मदद करें पार्टी कार्यकर्ता 

नीतीश-शाह की हुई थी मुलाकात
बता दें कि सीट बंटवारे को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी दो दिन पूर्व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मिल चुके हैं. मीडिया में इस दौरान चर्चा थी कि इस मुलाकात के दौरान नीतीश के साथ इलेक्शन स्ट्रेटजिस्ट प्रशांत किशोर भी मौजूद थे. सूत्रों के अनुसार इसमें जदयू और बीजेपी ने सीटों के बंटवारे पर लगभग सहमति बना ली है. इसमें लोकजनशक्ति पार्टी को भी सम्मानजक सीटें मिलने की बात की जा रही है.