Robbery in Karnataka कर्नाटक पुलिस ने चोरी के मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें लुटेरे ओमिक्रॉन की वैक्सीन लगाने के बहाने घर में घुसे और सोने के आभूषण लूट लिए. यशवंतपुर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है और इस संबंध में दो लोगों से पूछताछ कर रही है. जिस घर में दिनदहाड़े लूट की घटना को अंजाम दिया गया, उसके पास से पुलिस ने लाल रंग की एक कार भी बरामद की है. बदमाशों ने कथित तौर पर वाहन की रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट बदल दी थी. पुलिस को शक है कि कार चोरी की थी और लूट के लिए इस्तेमाल की गई थी. पुलिस के अनुसार, तीन लुटेरे एक कार में आए थे.Also Read - Coronavirus Cases: एक दिन में कोरोना से 2.58 लाख लोग हुए संक्रमित, 385 लोगों की मौत

आरोपी ने संपत सिंह की पत्नी पिस्ता देवी और उनकी बहू रक्षा से कोविड-19 के टीकाकरण के बारे में पूछताछ की. पिस्ता देवी ने पति को फोन करने की कोशिश की तो आरोपी ने उसके माथे पर पिस्टल रख दी और पहले आरोपी का पीछा करने वाले अन्य दो लोगों ने उन्हें एक कमरे में बंद कर घर से 50 ग्राम सोने के जेवर लूट लिए. Also Read - Coronavirus Update: WHO ने फिर चेताया, कहा- 'कोरोना वायरस कभी भी पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा लेकिन...'

जब पिस्ता देवी का बड़ा बेटा विक्रम सिंह घर लौटा, तो लुटेरों ने उससे पूछा कि क्या उसने टीका लगवाया है. जैसे ही विक्रम ने कहा कि उसे पूरी तरह से टीका लग गया है, आरोपी मौके से फरार हो गये. बरहाल, पुलिस ने दो लोगों को हिरासत में लिया है और पूछताछ कर रही है. Also Read - Delhi Weekend Curfew: नियम तोड़ते हुए पकड़े गए लोग, 1320 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

(इनपुट आईएएनएस)