नई दिल्ली: लखनऊ में प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा पुलिस पर बदसलूकी का आरोप लगाने के एक दिन बाद रविवार को उनके पति रॉबर्ट वाड्रा ने जरूरतमंद लोगों तक पहुंचने के उनके कदम की प्रशंसा करते हुए कहा कि जो लोग दुख में हैं तथा जिन्हें उनकी जरूरत है उन तक पहुंचना कोई गुनाह नहीं है.

उन्होंने पूर्व आईपीएस अधिकारी एस आर दारापुरी के परिवार से मिलने जा रहीं प्रियंका गांधी वाड्रा को रोकने की कोशिश के दौरान उत्तर पुलिस की ‘‘बदसलूकी’’ का एक वीडियो भी ट्विटर पर पोस्ट किया. उन्होंने कहा कि जिस तरह से महिला पुलिसकर्मियों ने प्रियंका के साथ बदसलूकी की, उससे मैं काफी परेशान हूं. एक महिला पुलिसकर्मी ने उनका गला दबाया जबकि अन्य ने उन्हें धक्का दिया जिससे वह गिर गईं. लेकिन उन्होंने पूर्व आईपीएस अधिकारी एस आर दारापुरी के परिवार से मिलने की ठान ली थी और इसलिए वह दो पहिया वाहन से वहां गईं.

इस वीडियो में प्रियंका गांधी को दो पहिया वाहन की पिछली सीट पर बैठे देखा जा सकता है. वाड्रा ने कहा कि करुणा दिखाने और जिन लोगों को आपकी जरूरत है उनतक पहुंचने के लिए मुझे आप पर गर्व है प्रियंका. आपने जो किया वह बिल्कुल ठीक किया और जरूरतमंद लोगों या दुख से ग्रस्त लोगों से मिलने जाने में कोई अपराध नहीं है.