नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने रोहतांग दर्रे के नीचे बनी रणनीतिक महत्‍व की सुरंग का नामकरण पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर करने को मंजूरी दे दी है. सुरंग को नया नाम बुधवार को वाजपेयी की जंयती के अवसर पर दिया जाएगा. तत्‍कालीन वाजपेयी सरकार ने इस सुरंग के निर्माण का फैसला किया था और अब पूर्व पीएम वाजपेयी के नाम पर ही इसका नाम रखा जाएगा.Also Read - भारत के वो हिल स्टेशन जहां गर्मियों में भी आप देख सकते हैं बर्फ, इस महीने बनाइये यहां घूमने का टूर

यह सुरंग 8.8 किलोमीटर लंबी है. यह 3000 मीटर की ऊंचाई पर बनाई गई दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है. बता दें रोहतांग दर्रे के नीचे रणनीतिक महत्‍व की सुरंग बनाए जाने का ऐतिहासिक फैसला तीन जून 2000 को लिया गया था, जब वाजपेयी देश के प्रधानमंत्री थे. Also Read - जम्मू-कश्मीर के रामबन में निर्माणाधीन सुरंग का एक हिस्सा ढहा, 7 लोगों के फंसे होने की आशंका | Watch Video

रक्षा मंत्रालय ने एक बयान में कहा, सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के योगदान के सम्‍मान स्‍वरूप रोहतांग दर्रे के नीचे बनी रणनीतिक महत्‍व की सुंरग का नाम उनके नाम पर रखने का फैसला किया है. Also Read - जम्‍मू में इंटरनेशनल बॉर्डर के पास मिली सुरंग, दो हफ्ते की लंबी खोज के बाद पता चला

यह सुरंग 8.8 किलोमीटर लंबी है. यह 3000 मीटर की ऊंचाई पर बनायी गयी दुनिया की सबसे लंबी सुरंग है.